sadeeyon se chalee aa rahee parapanra aaj bhee yahaan kaayam hai

सदीयोँ से चली आ रही परपंरा आज भी यहाँ कायम है

हिडोरिया,दमोह – सदीयोँ से चली आ रही परपंरा आज भी यहाँ कायम है ।जी हाँ हम बात कर रहे है ।यहाँ के मुस्लिम समुदाय की यहाँ पर एक परँपरा चली आ रही है ।जिसमे मुस्लिम समाज का कोई भी कार्यक्रम होता है । वो सबसे पहले अपने नगर के राजा को लेने के लिए राजगडी गाजे बाजे ,मसाले ,व नारे लगाते

हुए बडी मात्रा मे सभी मुस्लिम समाज के लोग एक जुलूस लेकर जाते है ।ओर राजगडी पहुचकर सासम्मान अपने राजा को साथ मे लेकर आते है ।ओर जहां पर कार्यक्रम स्थल होता है ।उनको वहां पर बिठाया जाता है ।ओर समाज की तरफ से उनका साल क्षीफल से उनका स्वागत किया जाता है ।ओर फिर शुरू होते है ।कार्यक्रम ओर अखाडे ।


समाज के लोग बताते है कि इस तरह की परँपरा कई पीढीयों से चली आ रही है ।जिसपे हम सभी मुस्लिम समाज के लोग आज भी कायम है ।ओर आगे भी इस तरह की परँपरा आगे भी चलती रहेगी

हिडोरिया से रहीस खान