प्रेरक व्यक्तित्व के रूप में विद्यार्थियों को संबोधित कर जीवन निर्माण की प्रेरणा दी कलेक्टर ने

 

दमोह –  छात्र-छात्राओं को राज्य शासन द्वारा दी जा रही सुविधाओं और चलाई जा रही योजना के बारे में जानकारी देने के लिये चलाये जा प्रेरणा संवाद कार्यक्रम के तहत कलेक्टर डॉ. श्रीनिवास शर्मा गत दिवस शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नोहटा पहुंचे और प्रेरक व्यक्तित्व के रूप में विद्यार्थियों को संबोधित कर जीवन निर्माण की प्रेरणा दी। कार्यक्रम का शुभारंभ माँ सरस्वती के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन एवं माल्यार्पण कर किया गया।
प्रेरणा संवाद को संबोधित करते हुये कलेक्टर डॉ. श्रीनिवास शर्मा ने मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी एवं प्रतिभाशाली प्रोत्साहन योजना के बारे में विस्तार से विद्यार्थियों को बताया। उन्होंने अपने जीवन के संस्मरणों का भावुकतापूर्वक उल्लेख करते हुये कहा कि यदि विद्यार्थी लगन व मेहनत से 10 से 11 घंटे नियमित अध्यापन करते हैं तो ऐसे विद्यार्थी भविष्य में निश्चित ही उच्च पदों पर आसीन होते हैं।
बच्चों से बातचीत में जब कलेक्टर डॉ. श्रीनिवास शर्मा ने बच्चों से कुछ पूछने के लिये कहा तो कक्षा बारहवीं की छात्रा सुरभि सैनी ने कहा कि सर मैं आपके उद्बोधन से बहुत अधिक प्रभावित हूँ, जिस तरह आज विद्यालय में आपके आगमन को लेकर मैं उत्सुक थी, भविष्य में मैं भी कुछ ऐसा बनूँ कि लोग मेरी आगमन को लेकर भी उत्सुक रहें। कलेक्टर डॉ. शर्मा ने प्रेरणा संवाद अवसर पर बताया जब 1994 में तेंदूखेड़ा अनुविभाग के अंतर्गत एसडीएम था, तब से मुझे इस क्षेत्र से बहुत लगाव है और मैंने इसी अनुविभाग के विद्यालय के रूप में नोहटा विद्यालय का प्रेरणा संवाद के लिये चुनाव किया। इस मौके पर डॉ. शर्मा ने अपने संबोधन से शासकीय योजनाओं के बारे में विस्तार से विद्यार्थियों को बताया और राज्य सरकार की योजनाओं का भरपूर लाभ उठाने के लिये कहा। कार्यक्रम का संचालन अनीता जैन एवं मोहन राय ने एवं आभार प्रदर्शन राजू गांगरा द्वारा  किया गया।
विद्यालय की ओर से ब्रजेश शर्मा, मोहन राय, राजू गांगरा, अनीता जैन एवं स्टाफ द्वारा मुख्य अतिथि का पुष्पहारों से स्वागत किया गया। विद्यालय की छात्रा प्रीति, दीपाली, रितिंक्षा आदि ने सुन्दर प्रेरणा गीत प्रस्तुत किया। कार्यक्रम में प्राचार्य के.के. पाण्डेय, रमेश व्यास की उपस्थिति रही।