आम आदमी पार्टी की ‘किसान बचाओ यात्रा’ पहुँची दमोह भाजपा के राज में चौतरफा लुट रहा किसान : आलोक अग्रवाल

दमोह{नरेन्द्र अठया} किसानों की 10 सूत्रीय मांगो को लेकर सभी 51 जिलों में आमआदमी पार्टी की किसान बचाओ यात्रा अपने 22 वें दिन सागर से दमोह जिले में पहुँची। जहाँ पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए प्रदेश संयोजक श्री आलोक अग्रवाल ने कहा कि पत्रकार वार्ता के बाद दमोह के बलारपुर व लक्षमणकुटी में किसान सभा का आयोजन किया गया तथा पथरिया में किसान चौपाल की गयी जिसमें बड़ी संख्या में किसानों ने शिकरत की, यात्रा का कई स्थानों पर जोरदार स्वागत किया गया।
सभा में शिवराज की भाजपा सरकार को किसानों के प्रति सबसे उदासीन सरकार करार देते हुए प्रदेश संयोजक आलोक अग्रवाल ने कहा कि आज प्रदेश का किसान दयनीय स्थिति में है। प्रदेश के किसानों को साल दर साल किसानी में नुकसान होता चला जा रहा है। प्रदेश सरकार की और से न उसे फसल का उचित मूल्य मिल रहा है न ही फसल ख़राब होने पर मुआवजा । किसान का कर्ज़ इस कदर बढ़ गया है कि प्रदेश में रोजाना 5 किसान आत्महत्या कर रहे है। और हमारे मुख्यमंत्री शिवराज जी है कि कृषि कर्मण अवार्ड लेने में व्यस्त है, आज प्रदेश के किसान पर लगभग 20 हज़ार करोड़ का कर्ज है। आज किसान को मदद की जरूरत है, इसलिए आम आदमी पार्टी किसान बचाओ यात्रा निकल रही है। प्रदेश संगठन सचिव श्री अमित भटनागर ने कहा कि देश के सबसे शोषित और पीड़ित क्षे्त्र में बुंदेलखंड का नाम आता है, यहाँ अबैध उत्खनन चरम पर है, सरकार के संरक्षण में जल जंगल जमीन की लूट धड़ल्ले से हो रही है, किसान व् किसानी पर संकट बढ़ता जा रहा है।

किसान बताओ यात्रा के उद्देश्य पर प्रकाश डालते हुए जिला संयोजक श्री सुनील राय ने बताया कि यात्रा के माध्यम से आम आदमी पार्टी की मांग है कि किसानों का कर्जा माफ़ हो, उसके फसलों के दाम बढ़ाये जाएँ और इस हेतु स्वामीनाथन रिपोर्ट की तर्ज पर “न्यूनतम मूल्य सुरक्षा कानून” बने साथ ही किसानों की फसल ख़राब होने पर 20,000 रु एकड़ का मुआवजा मिले व् 18 घंटे बिजली मिले।
सभा में प्रदेश महिला सहसंयोजक लक्ष्मी चौहान, प्रदेश यूथ संयोजक निशांत गंगवानी,आदि ने अपने विचार रखे।
मीडिया प्रभारी नरेन्द्र अठया, चंद्रमोहन गुरु ,राहुल श्रीवास्तव, छोटेलाल राठौर ,वीरेंद्र रैकवार, बसंतराय ,हेमंत राय ,मिर्जा बेग, जब्बार खान ,रवि पटेल ,कैलाश पटेल ,जितेंद्र अहरवाल ,गुलाब प्रजापति आदि शामिल रहे