देश का सबसे स्वच्छ शहर मे मध्यप्रदेश का शहर

स्वच्छ सर्वेक्षण-2017
इंदौर देश का सबसे स्वच्छ शहर
भोपाल दूसरे नंबर पर
नगरीय विकास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने दी मुख्यमंत्री को बधाई
भोपाल/इंदौर देश का सबसे स्वच्छ शहर बन गया है। भोपाल शहर ने दूसरे नम्बर पर अपना स्थान बनाया है। नई दिल्ली में आयोजित स्वच्छ सर्वेक्षण-2017 के सम्मान कार्यक्रम में क्रेन्द्रीय शहरी विकास मंत्री श्री वेकैंया नायडू ने स्वच्छ भारत रेकिंग में पूरे देश में इंदौर को सबसे स्वच्छ शहर की श्रेणी में पहला तथा दूसरे नम्बर पर भोपाल को पुरस्कृत किया। स्वच्छता र्स्वेक्षण में इंदौर को 2000 अंकों में 1807.72 तथा भोपाल को 1800.43 अंक मिले है। केन्द्रीय शहरी विकास मंत्रालय द्वारा देश के 434 शहरों एवं नगरों के कराये गये सर्वे में आज नई दिल्ली में 38 नगरीय निकायों और नगर निगम को अलग-अलग श्रेणियों में पुरस्कृत किया गया। इसके अतिरिक्त रीजन वाइस भी शहरों को पुरस्कृत किया गया।

टॉप 100 शहर में मध्यप्रदेश
उज्जैन12वाँस्थान, खरगोन17, जबलपुर21, सागर-23, कटनी-24, ग्वालियर- 27, औंकारेश्वर- 36, रीवा- 38, रतलाम- 48, सिगरौली51, छिंदवाड़ा- 53, सीहोर-55, देवास-58, होशंगाबाद – 59, पीथमपुर- 61, खण्डवा- 73, मंदसौर- 74 सतना- 75, बैतूल- 78, छतरपुर-92
नगरीय विकास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान को बधाई देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री की दृढ संकल्पित ‘हमारा शहर नं:1’ की मुहिम का नतीजा है कि आज मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी कहे जाने वाले इंदौर शहर तथा राजधानी भोपाल को स्वच्छता सर्वेक्षण में देश में पहले और दूसरे स्थान पर रहने पर पुरस्कृत किया गय। श्रीमती सिंह ने नगर निगम महापौर और नगर पालिका अध्यक्ष तथा पूरी टीम को बधाई देते हुए कहा कि सभी के सम्मिलित प्रयासों से इस वर्ष इंदौर शहर को देश में पहला स्थान प्राप्त हुआ है। वर्ष 2015 के स्वच्छता सर्वे में इंदौर 25वें स्थान पर था। श्रीमती सिंह ने नागरिकों का भी आभार व्यक्त करते हुए कहा कि जन सहयोग के बिना यह उपलब्धि मुमकिन नहीं थी।
रीवा शहर ने लिया लीप
इस सर्वे में रीवा शहर ने सबसे अच्छा लीप लिया है।स्वच्छ सर्वेक्षण-2017 में रीवा शहर को 38 वाँ स्थान प्राप्त हुआ है। पिछले सर्वेक्षण में रीवा शहर 397 वें स्थान पर था।