ho jaen saavadhaan, yadi mobail ke aaee em ee aaee nambar se kee chhedachhaad to ja sakate hain jel ?

हो जाएं सावधान, यदि मोबाइल के आई एम ई आई नंबर से की छेड़छाड़ तो जा सकते हैं जेल ?

  

नई दिल्ली -केंद्र सरकार ने मोबाइल चोरी रोकने के लिए कुछ सख्त कदम उठाए हैं अब इसमें अंतर्राष्ट्रीय मोबाइल उपकरण पहचान आई एम ई आई नंबर से छेड़छाड़ को दंडनीय अपराध बना दिया गया है, अब कोई भी व्यक्ति यदि मोबाइल के इस नंबर से छेड़छाड़ करता है तो उसे 3 साल की जेल भी हो सकती है ? आई एम ई आई नंबर में छेड़छाड़ छेड़छाड़ को दंडनीय अपराध बना दिया गया है, दूरसंचार विभाग ने इस बारे में एक अधिसूचना 25 अगस्त को जारी कर दी थी,

जिसमें कहा गया था कि किसी भी मोबाइल के इस नंबर में जानबूझकर छेड़खानी बदलाव या उसे मिटाना अवैध माना जाएगा, आई एम ई आई नंबर किसी भी मोबाइल के लिए 15 अंको की विशिष्ट डिजिटल पहचान होती है जो चोरी होने पर एक सबूत की तरह होता है यह नंबर आप बदल नहीं सकते हैं आप अपने सिम का नंबर बदल सकते हैं और पुलिस को शिकायत में इस नंबर को देना अनिवार्य होता है जिससे कि इससे मोबाइल की लोकेशन की जानकारी होती है इस आई एम ई आई नंबर को आप अपने फोन से भी डायल कर जान सकते हैं जिसे आप कहीं नोट कर लें और जरूरत पर इसका उपयोग करें इसकी मदद से आप अपना फोन लॉक भी करा सकते हैं और आप मोबाइल के बैक कवर खोलकर बैटरी निकालने के बाद भी इस नंबर को देख सकते हैं |