ठेकेदार की मनमानी से नहीं हुआ पाइप लाइन विस्तार

गर्मी के मौसम में बूंद-बूंद पानी को मोहताज हैं गांव के लोग
नोहटा{ हरिशंकर राठौर }दमोह जहां एक और पेयजल समस्या से निजात पाने के लिए शासन करोड़ों रुपया खर्च कर रही है और बड़ी पानी की टंकी में बना रहे हैं ताकि लोगों को आसानी से पानी उपलब्ध हो सके लेकिन कुछ नुमाइंदों द्वारा शासन की योजनाओं को पलीता लगा रहे हैं और और करोड़ों रुपए खर्च होने के बावजूद भी समस्याओं का समाधान नहीं हो पा रहा है हां कुछ गांव के लोग विरोध प्रदर्शन के लिए सड़कों पर उतरते हैं कुछ लोग जिला मुख्यालय में आकर धरना प्रदर्शन करती हैं और अपनी समस्याओं को बताते हैं लेकिन नोहटा की कुछ मोहल्ले में भीषण जल संकट है लेकिन कोई ध्यान नहीं दे रहा है जनपद पंचायत जवेरा के अंतर्गत आने वाली ग्राम नोहटा में वार्ड क्रमांक 4 5 6 7 8 9 मैं इस भीषण गर्मी में पानी की समस्या से वार्ड वासी जूझ रहे हैं

अनेकों बार लोगों ने इस संबंध में प्रशासनिक स्तर पर शिकायत की लेकिन अभी तक समस्या का समाधान नहीं हो सका यह बता दें कि पिछले पंचवर्षीय में यहां पर नहाती कॉलोनी घागरी शाखा तिराहा के पास कंचा रोड घटिया मोहल्ला हेतु नल जल योजना के संबंध में एक पानी की टंकी बनाई गई थी जो पूर्ण रुप से बन चुकी है और नोहटा को विद्युत मंडल से लेकर कॉलोनी तक जल सप्लाई व्यवस्था चालू है लेकिन मोतिया शाखा रोड के पास लोगों को इस लाखों रुपया की नल जल योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है कारण है महज पाइपलाइन विस्तारण का जो इन मोहल्ले मैं पाइप लाइन नहीं विस्तारण नहीं हो पाई है जिससे इन मोहल्लों के लोगों को पानी के लिए दूर दूर तक जाना पड़ रहा है यहां के कंचा घाट में पानी पशुओं और कपड़े धोने नहाने के लिए ही पूर्ण रुप से शुद्ध है यहां के निवासियों को पानी के लिए बेहद परेशान होना पढ़ रहा है इस समस्या को लेकर इन मोहल्लों के लोगों ने सांसद विधायक प्रशासनिक स्तर पर एसडीएम को भी समस्या से अवगत कराया लेकिन अभी तक समस्या का समाधान नहीं हो पाया है अतः यहां के निवासियों ने अविलंब इस समस्या का समाधान करने की मांग की है
इनका कहना एसडीएम सीपी पटेल आपके द्वारा समस्या को बताया गया मैं कल ही जाकर देखता हूं इनका कहना सरपंच ग्राम पंचायत नोहटा राम प्रसाद राय पानी की समस्या से लोग परेशान है मैंने भी कई बार इस योजना को चालू करवाने के लिए पीएसी को कई बार पत्र दिए लेकिन अभी तक चालू नहीं हो पाई है कहीं चालू है कहीं बंद है