जबेरा विकास मंच ने सौंपा प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन,

 ज्ञापन में दिया अल्टीमेटम मांगे पूरी न होने पर 15 मई को जबेरा बन्द ,
ज्ञापन लेने लेटलतीफी से लोग तहसीलदार से नाराज ओ पी अहिरवार से नाराज 
 जबेरा{ओमप्रकाश शर्मा }-मुद्दतों से जबेरा ग्राम सहित सम्पूर्ण तहसील क्षेत्र के गांव की बुनियादी सुबिधा को शासन -प्रशासन द्वारा लगातार उपेक्षा एव विकास की ओर ध्यान न देने ,समस्याओ के निराकरण में कोताही बरतने सहित प्रशासनिक अधिकारियो के मुख्यालय बनाकर न रहने के विरोध में जबेरा के विकास हेतु गठित जबेरा विकास मंच के अध्यक्ष राजेश जैन ने विज्ञप्ति में बताया कि आज जबेरा तहसीलदार ओ पी अहिरवार को प्रधानमंत्री जबेरा विधायक प्रभारी मंत्री कलैक्टर के नाम विभिन्न मांगों को लेकर एक ज्ञापन सौंपा गया जिसमें प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री के नाम क्षेत्रीय विधायक प्रताप सिंह एवं नायब तहसीलदार को पुलिस थाना प्रागण में सौपा।
ज्ञापन में जबेरा ग्राम को नगर पंचायत बनाने ,सिविल कोर्ट शीघ्र प्रारम्भ करने, एस डी एम के तीन दिन जबेरा तहसील में बैठने ,केंद्रीय विद्यालय जबेरा में खोलने,सीमांकन के चालान जबेरा बैंक में ही जमा करने ,नवनिर्मित बस स्टैंड शीघ्र चालू करने एवंं शौचालय व प्रतीक्षालय निर्माण ,नल जल योजना चालू करने ,बाईपास की मरम्मत एव भारी वाहन  निकालने, टपरे वालो को गुमटी निर्माण कर प्रदान करने ,पारना तालाब तत्काल निर्माण के टेंडर जारी करने ,ग्राम की प्रमुख सड़क के पुनर्निर्माण करने ,ग्राम के जलस्रोतों की साफ सफाई एव गहरीकरण ,बन्दरकोला तालाब का गहरीकरण एव मरम्मत ,बरगी नहर को जबेरा तक लाने ,ग्राम के सार्वजनिक स्थानों पर कचरादान एवशौचालय बनाने ,नोटरी की व्यवस्था करने ,केंद्र एव राज्य सरकार के संस्थान एव प्रशिक्षण केंद्र खोलने ,ग्राम की साफ सफाई प्रतिदिन करने ,वाचनालय एवम पुस्तकालय खोलने ,कर्मचारी एव पुलिस क्वार्टर निर्माण करने सहित अन्य  मांगों को शीघ्र पूरा करने की मांग की गई। ज्ञापन में जिला प्रशासन को चेतावनी देते हुए बताया गया है कि यदि उपरोक्त सभी मांगो पर शीघ्र विचार नही किया जाता तो विकास मंच 15 मइ को जबेरा बन्द का आह्वान भी किया जायेगा। वही ज्ञापन सौपने के पूर्व तहसीलदार वाय एस कुल्हाड़ा को ज्ञापन पुलिस थाना प्रागण में सौपने सुचना दी गई थी।किन्तु ज्ञापन सौंपने तहसीलदार मौके पर नही पहुचे।इस दौरान उपस्थित जनप्रतिनिधियों ने जब तहसीलदार से सम्पर्क करना चाहा तो उन्होंने मोबाइल कॉल रिसीव नही किया।जिससे लोगो में तहसीलदार के कार्य व्यवहार के प्रति खासी नाराजगी भी देखने को मिली।लगातार कार्यालय में सम्पर्क करने पर नायब तहसीलदार बमुश्किल ज्ञापन लेने उपस्थित हो पाए। के दौरान ज्ञापन सौंपने वालो में प्रमुख रूप से डी पी दुबे,सांसद प्रतिनिधि रूपेश सेन,विकास मंच अध्यक्ष राजेश जैन,डॉ अश्वनी नामदेव ,विनोद मलैया,भाजपा मंडल अध्यक्ष राजेश सिंघई,रबिशंकर बाजपेई, अजय तिवारी,,रानू नामदेव,किसान संघ नेता मनीष सिंघई,रबि जैन,माधव सिंह,गुड्डा घोषी,सुशील राय कोरता,अनुज बाजपेयी, संदीप दुबे,मयंक जैन,गोलू जैन,परषोत्तम गर्ग,शेलेन्द्र जैन,राजा जैन,सुधीर जैन ,रिंकू सेन,रत्नेश समैया,सहित बड़ी संख्या में ग्रामवासी उपस्थित थे।