vijayadashamee par bole bhaagavat gaay ke lie muslimon ne bhee dee jaan

विजयदशमी पर बोले भागवत गाय के लिए मुस्लिमों ने भी दी जान

नागपुर -विजय दशमी का पर्व देश के विभिन्न क्षेत्रों में मनाया जा रहा है,नागपुर में विजय दशमी के इस मौके पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने अपने RSS के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि अगर रोहिंग्या को इस देश में रहने की इजाजत दी जाती है तो वह हमारे देश के लिए खतरा बन जाएंगे ? उन्होंने केंद्र सरकार की भी तारीफ की उन्होंने कहा कि गौ रक्षा के नाम पर हिंसा करना ठीक नहीं है जो हिंसा कर रहे हैं उन्हें डरने की जरूरत है, इसे किसी धर्म से नहीं जोड़ा जाए गौरक्षा के काम कई धर्म के लोगों से जुड़े हैं इनमें मुस्लिम भी शामिल हैं गौ रक्षक और गौ रक्षा का प्रचार करने वाले मुस्लिम भी है और दूसरे संप्रदाय के लोग भी हैं,

उन्होंने कहा कि70 साल में पहली बार दुनिया का ध्यान भारत की तरफ गया है, हम सीमा पर जवाब दे रहे हैं, डोकलाम विवाद में हमने अपना गौरव और सिर नहीं झुकने दिया हम सम्मान के साथ खड़े हैं |

सारी दुनिया में हमारी साख बड़ी है भारत पहले भी था और हम सब भी थे लेकिन भारत को गंभीरता पूर्वक देखना होगा भारत में दखल देने से पहले 10 बार विचार करना पड़ेगा, यह बातें केवल आज ही सामने आई है|

इस विजयदशमी उत्सव कार्यक्रम में सरसंघचालक मोहन भागवत के साथ लालकृष्ण आडवाणी केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी मुख्यमंत्री महाराष्ट्र देवेंद्र फडणवीस भी पहुंचे जिन्होंने इस मौके पर RSS प्रमुख मोहन भागवत ने शस्त्र पूजा की जिसकी यहां लंबे समय से परंपरा चली आ रही है