The rage of love is Raymond, the founder of the company, who used to fly plane from Britain to come to India.

दाने-दाने को मोहताज है रेमंड कंपनी के संस्थापक, कभी ब्रिटेन से प्लेन उड़ाकर इंडिया आते थे अब घूम रहे हैं पैदल                       

 समय बड़ी तेजी से बदल रहा है और इसमें जज्बाती रिश्ते आपस में अपना अस्तित्व खोते जा रहे हैं देश के सबसे धनी और रेमंड लिमिटेड के मालिक विजयपत सिंघानिया ने अपने बेटे गौतम सिंघानिया पर आरोप लगाया है कि उनके बेटे ने उन्हें एक एक पैसे के लिए मोहताज बना कर रख दिया है एक समय था कि जब जाना माना ब्रांड रेमंड हुआ करता था और लोगों की पसंद रेमंड थी परंतु अब इसी के संस्थापक विजयपत सिंघानिया जिन्होंने जे के हाउस की आलीशान बिल्डिंग बनाई जो वर्तमान में 36 मंजिल है और अब खुद एक सोसाइटी के किराए के मकान में रहने को मजबूर हैं, बताया जाता है कि विजयपत सिंघानिया ने अपने बेटे गौतम सिंघानिया ने अपने समय मे ही रेमंड को काफी पॉपुलर ब्रांड बना दिया था और हम अब भी रेमंड नाम से ही जाना जाता है परंतु उन्होंने अपने बेटे को अपनी प्रॉपर्टी पर तमाम शेयर भी साथ दे दिये थे जिसको लेकर बेटे ने अब अपने पिता को इस प्रॉपर्टी से बेदखल करने की पूरी कोशिश कर दी है घर छीन लिया है ड्राइवर भी ले  लिया है और गाड़ी भी छीन ली   


रेमंड के संस्थापक विजयपत सिंघानिया ने अपनी सारी संपत्ति बेटे के नाम कर दी और सारे शेयर भी बेटे को दे दिए और जहां उनके परिवार की आपसी जंग चल रही है वही बेटा उन पर बिल्कुल भी ध्यान नहीं दे रहा है और पाई-पाई को मोहताज सिंघानिया सड़कों पर घूम रहे हैं                       

और आप अरबपति बाप पाई-पाई के लिए मोहताज है जहां छोटे शहरों में माता पिता को बेदखल कर संपत्ति पर कब्जा करने की घटना है तो सुनने को मिलती रहती थी लेकिन हाई प्रोफाइल सोसाइटी में इस प्रकार की घटना होना अपने आप में बहुत मायने रखता है ?