फरियादी बनकर मिलने आई थी युवती, डीएम का आया दिल, बना लिया जीवनसंगिनी

लखनऊ- ऐसा बहुत ही कम संयोग होता है कि कोई अपनी फरियाद लेकर अधिकारी के पास पहुंचे और वह उसे अपना जीवन संगिनी बना ले, हम बात कर रहे हैं लखनऊ के एक आईएएस अधिकारी संजय खत्री की जो इन दिनों चर्चा में है क्योंकि डीएम संजय खत्री उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश के साथ विवाद में भी चर्चा में आ चुके हैं, और अभी गाजीपुर में जिला अधिकारी के पद पर रहते समय उनके सामने पुरानी परिचित फरियाद लेकर आई तो उन्होंने उसे अपना जीवन संगिनी बना लिया|

जिलाधिकारी के जनता दरबार में फरियादी उनसे मिली थी और एक मुलाकात में दोनों को हमसफर बना दिया दरअसल रायबरेली के डीएम संजय खत्री कुछ दिन पहले गाजीपुर के जिलाधिकारी थे और उसी दौरान गाजीपुर की ही रहने वाली युवती विजयलक्ष्मी एक फरियाद लेकर उनसे मिली थी और जब दोनों ने एक दूसरे को देखा तो पहली नजर में ही एक दूसरे को दिल दे बैठे, और उन्हें अपना जीवन संगिनी बनाने का निर्णय ले लिया DM जब आईएएस की तैयारी कर रहे थे तो विजयलक्ष्मी भी वही आईएएस की तैयारी कर रही थी और दोनों की

मुलाक़ात हो जाया करती थी पर मामला आगे नहीं बढ़ सका, और संजय खत्री का आईएएस में सलेक्शन हो गया और वह प्रशिक्षण लेने चले गए और विजयलक्ष्मी का सिलेक्शन नहीं हो पाया तो वह अपने घर पर वापस लौट आई,मगर सयोंग बना की फरियाद लेकर के पास पहुंची तो जान पहचान वाले ही निकले और पुरानी यादें ताजा हो गई और उनका मिलना जुलना रहा और उसके बाद उन्होंने शादी करने का फैसला ले लिया और इसी महीने उन्होंने एक सादे समारोह में विजयलक्ष्मी से शादी कर ली इस समारोह में गिने चुने लोग शामिल थे |