Minister reveals: Thirty thousand cooks who made midday meal were missing

 

मंत्री का खुलासा :मध्यान्ह भोजन बनाने वाले तीस हजार रसोइये हो गए लापता

जो रसोइए हैं उनका वेतन भोपाल से सीधे उनके अकाउंट में जाएगा 

हमें तो धन्यवाद मिलना चाहिए हमें तो पुरस्कार मिलना चाहिए सरकार का पैसा बचा रहे हैं 

सागर- प्रदेश की एक लाख से ज्यादा स्कूलों में मध्यान्ह भोजन बनाने वाले करीब 30,000 रसोइए गायब है रसोइयों को मानदेय का भुगतान सीधे खाते में करने की व्यवस्था को लागू करने पर इसका खुलासा हुआ है पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग स्कूलों स्व-सहायता समूह पालक शिक्षक संघ की मैपिंग कर रसोइयों की वास्तविक संख्या पता करने में जुटा हुआ है आशंका जताई जा रही है कि कागजों में ही रसोइयों के नाम पर मानदेय का खेल चल रहा है इस मामले में जब प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव से बात की तो उनका कहना है कि  अच्छी बात तो है भेड़ियाधसान तरीके से भी चल रहा था व्यवस्थित कर दिया है अभी जो  रसोइए हैं उनका वेतन भोपाल से

सीधे उनके अकाउंट में जाएगा जिले  से नहीं जाएगा इसमें जो मैपिंग हुई है तीन लाख के करीब रसोइए हैं राज्य में उसमें से करीब 30,000 अभी आइडेंटिफाई नहीं हो पाए हैं देश के अंदर एक अच्छा प्रयोग हमारे  राज्य से शुरू  हुआ है जब मंत्री महोदय से पूछा गया कि जो दोषी पाए जाएंगे इस मामले में उन पर क्या कार्यवाही की जाएगी तो मंत्री जी ने कहा कि हम ही तो जांच कर रहे हैं हम ही कार्रवाई करेंगे इसमें तो किसी ने देश मे कहा नहीं किसी ने मांग नहीं की आप यह व्यवस्था लागू करो हमें हमें तो धन्यवाद मिलना चाहिए हमें तो पुरस्कार मिलना चाहिए सरकार का पैसा बचा रहे हैं 

 

सागर से टेकराम ठाकुर