मध्यप्रदेश का हर गांव पक्की सड़को से जोड़ा जायेगा और दिसम्बर 2018 तक सभी मंजरे टोले बिजली से रोशन हो जायेंगे- मुख्यमंत्री

पथरिया में विकास यात्रा सह अन्त्योदय मेले में 1018.81 करोड़ के कार्यो का भूमिपूजन और 109.23 करोड़ के 19 कार्यो का हुआ लोकापर्ण

दमोह

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश का हर गांव पक्की सड़को से जोड़ा जायेगा और दिसम्बर 2018 तक सभी मंजरे टोले बिजली से रोशन हो जायेंगे। उन्होंने कहा आगामी 26 जनवरी से प्रदेश में भू-अधिकार अभियान चलाया जायेगा। इस दौरान सभी पात्र भूमिहिनों को रहने लायक जमीन का अधिकार दिया जायेगा और 2022 तक प्रदेश के सभी पात्र परिवारो को पक्के आवास प्रधानमंत्री योजना तहत दिये जायेगें। मुख्यमंत्री आज दमोह जिले के पथरिया में आयोजित विकास यात्रा सह अन्त्योदय मेले को सम्बोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा अब रेत खादाने नीलाम नहीं होगीं, पंचायतों को सौंप दी जायेगी, रायल्टी सवा सौ रूपया कर दी गई है। मुख्यमंत्री ने कहा पहले 900 रूपये रायल्टी लगा करती थी, ठेकेदारी समाप्त कर दी गई है।

मुख्यमंत्री चौहान ने किसानों से कहा कि प्रदेश में 16 से 31 अक्टूबर के बीच जिन किसानों ने खरीफ की फसलें भावान्तर योजना में बेची है, उनके खातों में 135 करोड़ रूपये राशि डाल दी गई है। उन्होंने कहा इस योजना में सोयाबीन के लिए 470 रूपये, उड़द में 2400 रूपये, मूंग में 1455 रूपये प्रति Ïक्वटल के हिसाब से दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा लोग अफवाह उडाते है, भावान्तर योजना में किसानों को घाटा हो रहा है। देखो आज पथरिया में किसान कीर्ति मिश्रा को एक लाख 13 हजार 616 रूपये मिले और परसराम पटैल को एक लाख एक हजार रूपये, जगदीश पटैल को एक लाख, रतन लोधी को एक लाख 10 हजार रूपये मिले हैं। उन्होंने कहा यह प्रमाण है कि सरकार जो कहती है, वह दिख भी रहा है। श्री चौहान ने कहा भावान्तर योजना का अध्ययन करने देश के अन्य प्रांतों की सरकार आकर इसका अध्ययन कर रही हैं। मुख्यमंत्री ने किसानों से मंच से पूछा क्या योजना अच्छी है, किसानों ने जोर से कहा हां बहुत अच्छी है।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा बुन्देलखण्ड में सूखा पड़ा है चिंता ना करें। किसान भाईयों सरकार आपके साथ है, आपको हर संभव सहायता देगी। उन्होंने कहा कांग्रेस सरकार किसानों को 18 प्रतिशत पर कृषि ऋण मुहैया कराती थी, भाजपा सरकार ने इसे घटाकर जीरों प्रतिशत कर दिया है। आगे कहा एक लाख रूपये का खाद बीज ले और 90 हजार वापस कर दो। यह सब किसानों को आत्म निर्भर और खेती को लाभ का धन्धा बनाने के उद्देश्य से किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा किसानों के खेतों में पानी मिल जायें, इससे ज्यादा और किसानों को क्या चाहिए। पानी मिल जाने से खेतों में हरियाली और गांव मे खुशहाली आयेगी। उन्होंने कहा दमोह जिले में 2003 में 5860 हैक्टर क्षेत्र में सिंचाई होती थी, हमारी सरकार के प्रयासों से बढ़कर 51 हजार हैक्टर क्षेत्र में सिंचाई होने लगी है, अब जूड़ी, साजली, सतधरू और पंचमनगर सिंचाई योजनाओं के पूर्ण हो जाने पर एक लाख हैक्टर क्षेत्र से ज्यादा में सिंचाई होने लगेगी। मुख्यमंत्री ने सीतानगर सिंचाई परियोजना के बारे में कहा साध्यतापूर्ण होने दो स्वीकृति प्रदान कर दी जायेगी। उन्होंने कहा बुन्देलखण्ड में पानी सुविधा के लिए सरकार हर संभव मदद करेगी। सरकार खेतों में पानी की बेहतर व्यवस्था के लिए दृढ़ संकल्पित होकर काम कर रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा अगले शिक्षण सत्र से साईकिल के साथ ही बच्चों को गणवेश बने बनायें दिये जायेंगे और पोषण आहार के संबंध में कहा अब स्वसहायता समूहों की बहनें तैयार कर मुहैया करायेगी। उन्होंने कहा जहां-जहां भी योजना परिवर्तन आवश्यक होगा, किये जायेंगे।

.         मुख्यमंत्री ने कहा उच्च शिक्षा हेतु गरीब प्रतिभावान छात्रों की फीस जिन्होंने 12वीं 75 प्रतिशत या उससे अधिक पाये हैं, उनकी मेडिकल, इंजीनिरिंग की फीस सरकार भरेगी। अब गरीब प्रतिभावान बच्चों के सपनों को मरने नहीं देगें। मेरे भांजे भांजियों तुम कड़ी मेहनत करो और आगे बढ़ो। हमने पढ़ाई की माकूल व्यवस्थाएं कर दी है।

मुख्यमंत्री ने कहा सरकार ने गरीब कल्याण एजेण्डा चलाया है, साढ़े 5 करोड़ गरीबों को एक रूपये किलो गेंहू, चावल और नमक दिया जा रहा है। उन्होंने कहा दमोह जिले में 24 हजार प्रधानमंत्री आवास बने रहे हैं, जिनको आवास अभी नहीं मिले हैं वे चिंता ना करें। सन् 2022 तक सभी पात्र आवासहीनों के पक्के आवास हो जायेगें। यह भी कहा कि ग्रामीण क्षेत्र ही नहीं शहरी क्षेत्रों में भी आवास बनवाये जा रहे हैं। श्री चौहान ने कहा जिले के शहरी क्षेत्र पथरिया में 800 से ज्यादा आवास बन रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा गौ माता सड़को पर दिखती है। उन्होंने कहा गौ अभ्यारण बनाये जायें, सरकार हर संभव सहयोग देगी। गौवंश को बचाने हम सबको आगे आना होगा। दमोह जिले के जुझारूधाम में गौ अभ्यारण की जानकारी मिलने पर कहा सरकार हर संभव मदद करेगी। उन्होंने बडे हुए बिजली बिलों के संबंध में कहा चिंता ना करें जांच कराई जायेगी और आमजन को राहत दिलायी जायेगी। किसानों को दो माह के अस्थाई विद्युत कनेक्शन के संबंध में सरकार के निर्णय से अवगत कराया।

मुख्यमंत्री ने की घोषणाएं

मुख्यमंत्री ने पथरिया और बटियागढ़ में आईटीआई खोलने की घोषणा की और पथरिया महाविद्यालय के संबंध में कहा एमए, एमएससी जो विषय जरूरी होंगे प्रारंभ कराये जायेगेंें। शाहपुर-सोनकिया पुल की मांग पर कहा परीक्षण कराकर कराये जाने की बात कही। उन्होंने कहा और भी जो मांगे रखी गई हैं, हम ज्यादा से ज्यादा विकास के काम स्वीकृत करेगें।

इस अवसर पर पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव ने कहा हमारी सरकार ने अन्त्योदय मेले आयोजन कर एक ही छत के नीचे सभी योजनाओं का लाभ हितग्राहियो को दिया जा रहा है। पहले हितग्राहियों को जनपद और जिले के चक्कर काटने पड़ते थे। अब जहां अन्त्योदय मेले से हितग्राहियों को हितलाभ मिल रहे हैं, वहीं उनकी समस्याओं का भी निराकरण हो रहा है। भार्गव ने कहा 2018 तक सभी गांव को पक्की सड़कों से जोड़ दिया जायेगा। उन्होंने कहा मुख्यमंत्री जी के निर्देश पर 110 सड़कों की स्वीकृति दी गई है।