गौ भक्तों ने दिल्ली में भरी हुंकार

दमोह -बांदकपुर

गौ माता को राष्ट्र माता बनाने दमोह जिले के गौ भक्तों ने दिल्ली में भरी हुंकार

-18 फरवरी 2018 को दिल्ली के रामलीला मैदान में राष्ट्रीय गौ संत गोपालमणि जी महाराज भारतीय गौ क्रांति मंच के द्वारा करोड़ों हिन्दुओ की आस्था व श्रद्धा की प्रतीक गौ माता से सम्बंधित राष्ट्र हित के लिए 5 मांगों को केंद्र सरकार के सामने रखा जिसमे : गौ माता को राष्ट्र माता का सम्मान दिया जाए

,गाय के गोबर का समर्थन  मूल्य किसानो को दिया जाये एवं सरकार किसानो से गोबर खरीद कर उसका उपयोग भारत देश के खेतों में देशी खाद के रूप में प्रयोग हो एवं गोबर गैस का प्रयोग विभिन्न रूपों में किया जाये

,गौमाता के लिए अलग से गौ मंत्रालय का गठन हो ,विद्यालयों में 10 वर्ष तक के बालक -बालिकाओ को देशी गौ माता का दूध पिलाया जाये ,गौ हत्यारों को मृत्यु दंड का विधान हो

इन प्रमुख मांगों को लेकर गोपाल मणि जी महाराज ने अनेक संतों और लाखों गौ भक्तों को लेकर विशाल जन आंदोलन किया गया |

महाराज जी ने बताया की भारत सरकार द्वारा गौमाता को पशु का दर्जा दिया गया है लेकिन गाय पशु नहीं है बल्कि हिन्दू सनातन धर्म के व वेदों के अनुसार गाय जननी माँ है और हम चाहते है की गौ माता को राष्ट्र माता का सम्मान दिया जाना चाहिए व गौ माता राष्ट्र माता

घोषित हो महाराज जी ने बताया की मोदी सरकार गाय और हिंदुत्व को लेकर केंद्र में स्थापित हुई थी लेकिन मोदी सरकार ने गाय के हित को लेकर कोई कार्य नहीं किया आज भी गौ माता पर अत्याचार हो रहे है लेकिन केंद्र सरकार चुप बैठी है अगर अब शीघ्र ही गौ माता के हित को लेकर केंद्र सरकार ने कदम नहीं उठाये तो आने वाले 2019 के चुनाव में जीत या हार का फैसला गौ माता करेगीं दिल्ली के राम लीला मैदान से महात्मा गाँधी की समाधी राज घाट तक महाराज जी के साथ गौ हुंकार रैली करते  हुए लाखों गौ भक्त गौ माता को राष्ट्र माता घोषित करो के नारे लगाते हुए केंद्र सरकार को जगाने राजघाट पहुंचे

इस अवसर पर दमोह जिले का प्रतिनिधित्व करते हुए  देव श्री जागेश्वरधाम बांदकपुर से भी गौ भक्त पं. राम गौतम ,शुभांश दुबे , शंकर गौतम , विजय रजक व हटा से अंशुल तिवारी  रवि विदोलया दिल्ली पहुंचे और महाराज जी से आशीर्वाद लेकर पुनः दमोह जिले आने का आमंत्रण दिया