After all, the collector’s suicide racket found from the railway track?

 

आखिर क्यों कलेक्टर ने की आत्महत्या रेलवे ट्रैक से मिली लाश ?                       

बक्सर -बिहार के बक्सर में एक आई ए एस मुकेश कुमार पांडे ने दिल्ली में खुदकुशी कर ली जिसे दूसरे लोग अपना रोल मॉडल मानते हैं वह लोग भी इस प्रकार की हरकत करते हैं तो लोगों का मनोबल स्वाभाविक रूप से टूट जाता है बताया जाता है कि इसी सप्ताह उन्होंने बक्सर में जिलाधिकारी का प्रभार संभाला था और वह बक्सर में अपना कार्यभार उप विकास आयुक्त को सौप कर दिल्ली गए हुए थे   

 

 

                   

IAS मुकेश पांडे का शव गाजियाबाद स्टेशन से 1 किलोमीटर दूर गांव के पास रेलवे ट्रैक पर कटा हुआ मिला किस ट्रेन से सर कटा और कितने बजे का टाइम रहा, अभी तक साफ नहीं हो पाया है परंतु शुरुआती जांच में आत्महत्या का मामला माना गया है जानकारी के मुताबिक आईएएस मुकेश पांडे ने WhatsApp करके अपने परिजनों को इसकी सूचना दी थी कि वह सुसाइड करने वाले हैं परिजनों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी और पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन उनको पकड़ नहीं पाई दिल्ली के लीला पैलेस में उनका सुसाइड नोट पाया गया वह अन्य स्थान पर उनका मोबाइल भी पाया गया                       

ऐसा माना जा रहा है कि वह दिल्ली सुसाइड करने के लिए ही  आए थे रेलवे पर मिली डेड बॉडी के पास से मिले आइडेंटी कार्ड से उनकी शिनाख्त हो गई है                       

नजदीकी लोगों का मानना है कि आईएएस मुकेश पांडेय डिप्रेशन में थे और परेशान थे कुछ लोगों का यह भी कहना है कि वह अपनी शादीशुदा जिंदगी से परेशान थे क्योंकि पत्नी अपने पिता के साथ दिल्ली में रहती थी और इसी को लेकर वह परिवार के साथ सामान्य से नहीं रह पा रहे थे इस वजह से हो सकता है कि उन्होंने यह कदम उठाया हो ?