aakhir kaun hain, jee bee rod par chal rahe kothon ke asalee maalik ?

hindi news portal, live breaking news ,online breaking news, hindi news portal, bllywood news, latest breaking news, hindi news headline, latest hindi news, bollywood news in hind, breaking news in hindi

 

आखिर कौन हैं, जी बी रोड पर चल रहे कोठों के असली मालिक ?

न्यूज़ डेस्क- दिल्ली मैं कोठों को बंद करने की कवायद लंबे समय से जारी है परंतु कुछ कार्यवाही के बाद अंततः बंद नहीं हो सके और यहां की महिलाओं को पुनर्वास नहीं किया जा सका परंतु अब लगता है कि कोठों को बंद करवाने की कवायद में दिल्ली महिला आयोग कुछ रंग ला पाएगी, महिला आयोग की तरफ से 125 मालिकों को समंस भेजे गए, आयोग ने विभिन्न कोठों के मालिको की जानकारी कई माध्यम से प्राप्त की थी , लेकिन इसमें सबसे बड़ी बात यह रही कि एक ही कोठों को अलग अलग नाम दिए गए थे और

अलग-अलग मालिकों की जानकारी सामने आ रही है जिससे असली मालिक को पहचानना मुश्किल है एक जानकारी के अनुसार इन जगहों के मालिकों से कहा गया था कि वह 21 सितंबर से 24 सितंबर तक अपने मूल पहचान पत्र पत्र के साथ सबूत के साथ आयोग के सामने पेश हो परंतु यह सम्न्स ही नहीं लिए गए जिसके कारण से संमस कोठों की दीवार पर चिपका ना पड़े, इससे पहले भी महिला आयोग ने एक समिति का गठन किया था जिसमें दिल्ली पुलिस उत्तरी दिल्ली नगर निगम जिला मजिस्ट्रेट दिल्ली जल बोर्ड दमकल विभाग और कुछ एनजीओ के लोगों को शामिल किया गया था जिसमें विधिक सलाहकार भी शामिल थे, ऐसा बताया जाता है कि GB रोड पर मानव तस्करी का एक बहुत बड़ा अड्डा है, जहां देश के अलग-अलग भागो से नाबालिक लड़कियों को यहां लाया जाता है, और उनके साथ दुष्कर्म जैसी स्थिती से गुजरना पड़ता है ? और उनका शोषण होता है, अब देखना होगा कि इन कोठों के असली मालिक की पहचान हो पाती है या नहीं कई बार ऐसा भी हुआ है कि छापे के दौरान प्रबंधकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि यह कारोबार संसद से कुछ किलोमीटर की दूरी पर चल रहा है जिससे कि आयोग की तरफ से इस व्यवस्था पर प्रश्नचिन्ह लग रहे हैं |