दमोह में मेडिकल कॉलेज खोले जाने वित्त मंत्री जयंत मलैया की सिफ़ारिश

दमोह- वित्त और वाणिज्यिक कर मंत्री जयंत कुमार मलैया ने जानकारी देते हुए बताया कि वे आज 19 फरवरी को दिल्ली जा रहे हैं, उनका कहना है कि दमोह में मेडिकल कॉलेज खोला जायें इस हेतु भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्री से मिलकर आग्रह करेगें और इस आशय का मांग पत्र सौंपेगे।

वित्त मंत्री मलैया कहते हैं कि वे 20 फरवरी को दिल्ली में भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्री से मिलकर इस बात का आग्रह करेंगे और यह अवगत करायेंगे कि दमोह शहर के नजदीक ही 25 हैक्टर जमीन मेडिकल कालेज के लिए जिला प्रशासन द्वारा चिन्हांकित कर ली गई है। मलैया कहते है कि वे भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्री को यह भी अवगत करायेंगे कि मेडिकल निर्माण के लिए अपनी विधायक निधि की पूरी राशि देने के लिए तैयार है।

उन्होंने कहा दमोह की जनता भी हर तरह से सहयोग के लिए तैयार है यह भावनाए भी स्वास्थ्य मंत्री तक पहुंचायेगें। मलैया ने कहा दमोह में मेडिकल कालेज प्रारंभ करने के लिए स्वास्थ मंत्री को एक पत्र भी सौंपेगें।

दमोह जिले में मेडिकल कॉलेज खुलने से विकास के साथ क्षेत्र की उन्नति होगी। जिले में प्रतिभावाओं की कमी नहीं है जो मेडिकल कालेज में दाखिला चाहते हैं पर आर्थिक स्थिति और दूरी पढ़ाई के मार्ग में रौड़ा बनती हैं। दमोह जिला मुख्यालय में हर तरह की सुविधाएं उपलब्ध हैं, जहां एक ओर पहले पेयजल की समस्या रहती थी वह भी अब दूर हो गयी है। इस प्रकार मेडिकल कालेज खोले जाने की परिस्थितियां अनुकूल भी है।

 

प्रदेश के पहले तितली पार्क का लोकार्पण, बच्चों को तितलियों को जानने तथा प्रकृति से जुड़ने का अवसर मिलेगा

तितली पार्क से जिले को नई पहचान मिलेगी-लोक निर्माण मंत्री
 रायसेन :-जिला मुख्यालय पर साँची रोड़ पर ग्राम गोपालपुर के पास देश के दूसरे एवं प्रदेश के पहले तितली पार्क का आज शुभारंभ विधानसभा अध्यक्ष द्वारा किया गया । इस अवसर पर क्षेत्रीय विधायक व वन मंत्री डॉ. गौरीशंकर शेजवार , लोकनिर्माण मंत्री रामपाल सिंह सहित वन विभाग एवं प्रशासनिक अधिकारी भी मौजूद थे ।
प्रकृति और प्राणी का गहरा संबंध है। प्रकृति को नुकसान पहुंचता है तो इसका सीधा असर वातावरण पर पड़ता है जिससे प्राणी प्रभावित होते हैं। प्रकृति का चक्र सामान्य रूप से चलता रहे, इसके लिए जरूरी है प्रकृति का संरक्षण। यह तितली पार्क प्रकृति के संरक्षण में वन विभाग की महत्वपूर्ण पहल है। यह बात विधानसभा अध्यक्ष  सीताशरण शर्मा ने रायसेन में प्रदेश के पहले तितली पार्क के लोकार्पण अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में कही। उन्होंने कहा कि तितली पार्क में आने वाले बच्चों और लोगों का न केवल सामान्य ज्ञान बढ़ेगा बल्कि वे प्रकृति के निकट भी आएंगे। कार्यक्रम में तितली पार्क के साही तितलियों एवं प्रकृति के संबंध में छात्र-छात्राओं एवं पर्यटकों को जानकारी देने के लिए बनाए गए ऑडिटोरियम का भी लोकार्पण किया गया।
कार्यक्रम में वन मंत्री डॉ गौरीशंकर शेजवार ने कहा कि यह तितली पार्क पर्यटन को नया आयाम देगा। साथ ही बच्चों के ज्ञानवर्धन के लिए उपयोगी सिद्ध होगा। उन्होंने कहा कि बच्चे तितली पार्क में आकर न केवल विभिन्न प्रजातियों की तितलियों के बारे में जानेंगे बल्कि उन्हें प्रकृति से जुड़ने का अवसर भी मिलेगा। उन्होंने तितली पार्क के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले वन विभाग तथा ईको टूरिज्म बोर्ड के अधिकारियों की सराहना की। रायसेन में बना प्रदेश का यह पहला तितली पार्क ईको पर्यटन के क्षेत्र में प्रदेश को एक नई पहचान देगा।
वन मंत्री डॉ शेजवार ने कहा कि यहां बने ऑडिटोरियम के माध्यम से बच्चों को तितलियों, वन्य जीवों एवं प्रकृति की विस्तार से जानकारी प्रदान करने की व्यवस्था की गई है। ऑडिटोरियम में प्रकृति और पर्यावरण से जुड़ी विभिन्न प्रतियोगिताएं भी आयोजित की जाएगीं। उन्होंने कहा कि यहां बना ट्रेकिंग ट्रेक भी बच्चों के लिए रोमांचक अनुभव होगा और ऊपर पहाड़ी पर बने वॉच टावर से प्रकृति के अनुपम दृश्य को देखना रूचिकर लगेगा। उन्होंने बताया कि भविष्य में मछली घर के निर्माण की भी योजना है।
लोक निर्माण मंत्री रामपाल सिंह ने कहा कि तितली पार्क के बन जाने से जिले में पर्यटकों का आना भी बढ़ेगा और उन्हें जिले की अन्य महत्वपूर्ण धरोहरों को देखने और जानने के साथ-साथ तितली पार्क के माध्यम से प्रकृति से जुड़ने के अवसर मिलेगा। उन्होंने तितली पार्क को जिले के लिए एक बड़ी उपलब्धि बताया। उन्होंने कहा कि सरकार प्रदेश के विकास के लिए निरंतर काम कर रही है। हाल ही में हुई ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों की हर संभव मदद की जाएगी। उन्हें कहा कि क्षति का सर्वे कराया जा रहा है तथा किसानों को मुआवजा तथा बीमा की राशि दिलाई जाएगी। कार्यक्रम के आरंभ में ईको टूरिज्म बोर्ड के मुख्य कार्यपालन अधिकारी  पुष्कर सिंह ने तितली पार्क के निर्माण के बारे में विस्तार से जानकारी दी।
कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती अनीता किरार,  अपर मुख्य सचिव  दीपक खाण्डेकर, प्रधान वन संरक्षक  अनिमेश शुक्ल, प्रधान मुख्य वन संरक्षक  जितेन्द्र अग्रवाल, मुख्य वन संरक्षक भोपाल वृत्त विजय नीमा, कलेक्टर श्रीमती भावना वालिम्बे, एसपी जगत सिंह राजपूत, डीएफओ  राजेश खरे, डीएफओ रमेश गनावा, डीएफओ  रविन्द्र सक्सेना तथा वन विकास निगम के एमडी  रवि श्रीवास्तव भी उपस्थित थे।
तितली पार्क की खास बातें –
जिला मुख्यालय रायसेन के गोपालपुर के समीप वन विभाग द्वारा 400 हैक्टेयर क्षेत्र को मनोरंजन क्षेत्र घोषित किया गया है। जिसमें तीन हैक्टेयर क्षेत्र में तितली पार्क का निर्माण किया गया है। इस तितली पार्क में 65 प्रजातियों की तितलियां हैं। तितलियों के जन्म लेने तथा पलने-बढ़ने के लिए अनुकूल वातावरण पैदा करने वाले 137 तरह के पौधे लगाए गए हैं। तितली पार्क के पास ही ट्रेकिंग ट्रेक बनाया गया है जिसके माध्यम से ऊपर चढ़कर प्राकृतिक दृश्य को निहारना मनोरंजक लगेगा।
तितली पार्क ब्रोशर का विमोचन –
विधानसभा अध्यक्ष  सीताशरण शर्मा, वन मंत्री डॉ गौरीशंकर शेजवार तथा लोक निर्माण मंत्री रामपाल सिंह ने तितली पार्क पर बने ब्रोशर का विमोचन किया। इस ब्रोशर में तितलियों की प्रजातियों तथा तितली के जीवन चक्र के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई है।
प्रतियोगिता के विजेताओं को किया पुरस्कृत गया ।
  विधानसभा अध्यक्ष सीताशरण शर्मा, वन मंत्री डॉ गौरीशंकर शेजवार तथा लोक निर्माण मंत्री रामपाल सिंह ने वन विभाग द्वारा आयोजित चित्रकला प्रतियोगिता के विजेताओं को पुरस्कृत किया। विजेताओं में शासकीय माध्यमिक शाला नरापुरा के मोहर सिंह को प्रथम पुरस्कार, उदय वंशकार शासकीय माध्यमिक शाला खरगावली को द्वितीय पुरस्कार तथा शासकीय कन्या माध्यमिक शाला खरगावली की कुमारी सलोनी को तृतीय पुरस्कार प्रदान किया गया। साथ ही तितली विशेषज्ञ सारंग महात्रे को भी सम्मानित किया गया।
  चित्र :-    रायसेन में  देश के दूसरे और प्रदेश के पहले तितली पार्क उद्घाटन कार्यक्रम के ।
 सईद नादाँ , रायसेन

छात्र-छात्राओं को वितरित किए स्मार्ट फोन, 4जी मोबाइल दिलाने का भी प्रयास करेंगे: ललिता यादव

छतरपुर। प्रदेश की पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण विभाग की स्वतंत्र प्रभार की राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने कहा है कि छात्र-छात्राओं को 4जी मोबाइल दिलाने के लिए मुख्यमंत्री और उच्चशिक्षा मंत्री से वे बात करेंगीं। श्रीमती ललिता यादव शुक्रवार को महाराजा कॉलेज के शताब्दी हॉल में स्मार्टफोन वितरित कर रही थीं।


समारोह में कॉलेज की जनभागीदारी समिति के अध्यक्ष दिग्विजय त्रिपाठी, प्राचार्य डॉ. एलएल कोरी, छात्रसंघ अध्यक्ष सोनम रावत भी अतिथि के रूप में मौजूद थीं। इस अवसर पर 2016-17 में एडमीशन लेने वाले चौथे सेमेस्टर के छात्र-छात्राओं को स्मार्ट फोन प्रदान किए

गए। इस दौरान छात्र-छात्राओं ने 3जी के बजाय 4जी मोबाइल सेट दिए जाने की मांग उठाई। राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने कहा कि वे यहां से मुंगावली जा रही हैं जहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उच्च शिक्षा मंत्री जयभान सिंह पवैया से मिलकर छात्र-छात्राओं की भावनाओं से अवगत कराएंगीं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने छात्रों के लिए जब अनेक कल्याणकारी योजनाएं चलाई हैं तो 4जी क्या वे 5जी मोाबइल भी दे देंगे। समारोह में प्राध्यापकगण और भारी तादाद में छात्र-छात्राएं मौजूद थे।

विपदा की इस घड़ी मे सरकार आपके साथ अन्नदाता के नुक़सान की होगी भरपाई-मुख्यमंत्री

सागर -मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार  को सागर जिले की  बीना  तहसील के ओलावृष्टि प्रभावित गाँवों मे पहुंचे और क्षतिग्रस्त फसलों का निरीक्षण किया तथा कृषकों से बात कर उन्हें ढाढस बंधाते हुए कहा कि संकट की इस घड़ी मे सरकार आपके साथ है।

मुख्यमंत्री चौहान जोद ,गिरोल एवं लहटवास पहुँचे और खेत मे जाकर फसलों के नुकसान का जायजा लिया उन्होंने जोद,गिरोल एवं लहटवास के कृषकों को संबोधित करते हुए कहा कि नेतृत्व की पहचान संकट के समय ही होती है इन परिस्थितियों का मुकाबला मिलकर करेंगे।उन्होंने कहा कि सभी प्रभावित गाँवों का सर्वे होगा,सर्वे टीम मे पटवारी, कृषि का अमला, गाँव के पंच शामिल होंगे और सूची पंचायत के सूचना पट्ट पर चस्पा की जाएगी ताकि पूरी

पारदर्शिता बनी रहे। मुख्यमंत्री चौहान ने आगे कहा कि आपदा से प्रभावित कृषकों को फसल बीमा राशि,30हजार रूपये प्रति हैक्टेयर राहत राशि,कर्ज वसूली स्थगन, ब्याज शासन द्वारा प्रतिपूर्ति, खाद-बीज हेतु शून्य प्रतिशत पर कर्ज तथा कन्या का विवाह घर से भी करने पर मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना का लाभ साथ ही। उन्होंने आशवस्त किया कि प्रदेश के सभी प्रभावित कृषकों का जितना भी नुकसान हुआ है उसकी भरपाई की जाएगी।

इस मौके पर सांसद श्री लक्ष्मी नारायण यादव , कमिशनर श्री आशुतोष अवस्थी , कलेक्टर आलोक कुमार सिंह , एस. पी. सत्येन्द्र कुमार शुक्ला सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं भारी मात्रा मैं किसान भाई मौजूद थे।

राज्यमंत्री ने बाइक से खेतों में पहुंचकर लिया जायजा, ओलों से नुकसान का मुआवजा जल्द मिलेगा

छतरपुर। प्रदेश की पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण तथा महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने आज ओलों से प्रभावित कई गांवों का दौरा कर किसानों को ढाढस बंधाया। उन्होंने कहा कि शासन ने राजस्व अमले से फसल क्षति का सर्वे कर शीघ्र रिपोर्ट मांगी है। सर्वे रिपोर्ट प्राप्त होते ही पीडि़त किसनों को मुआवजा राशि का वितरण किया जाएगा।


इस अवसर पर छतरपुर जनपद अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह यादव, कलेक्टर रमेश भण्डारी, एसडीएम रवीन्द्र चौकसे, तहसीलदार आलोक वर्मा, राजस्व निरीक्षक, पटवारी आदि भी राज्यमंत्री के साथ थे। राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने अपने छतरपुर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम बनगांय, धामची, पिड़पा, कलानी और बछरौनियां समेत अनेक गांव पहुंचकर खेतों में

जाकर ओलावृष्टि से फसलों को हुए नुकसान का जायजा लिया। खेतों तक बड़ा वाहन न पहुंच पाने पर राज्यमंत्री मोटर साईकिल पर बैठकर खेतों तक पहुंचीं। उन्होंने खेतों का मुआयना करने के साथ ही गांवों में चौपाल लगाकर किसानों का दुख-दर्द जाना। राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने कहा कि किसानों की संकट की इस घड़ी में मध्य प्रदेश सरकार उनके साथ है। ओलावृष्टि से जिन किसानों का नुकसान हुआ है उसकी भरपाई प्रदेश सरकार करेगी। किसानों को किसी भी सूरत में परेशान नहीं होने दिया जाएगा। राजनैतिक रोटियां सेेंकने वालों की बातों में न आएं, हर किसान के साथ पूरी भाजपा सरकार है।
राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने मौके पर ही राजस्व विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों को निर्देश दिए कि सर्वे का कार्य पूरी पारदर्शिता से किया जाए। एक भी पीडि़त किसान का नाम सर्वे से छूटना नहीं चाहिए। उन्होंने चौपाल लगाकर किसानों की समस्याएं सुनीं और कहा कि सर्वे में कोई गड़बड़ी होने पर उन्हें सूचना दें। हर पीडि़त किसान को मुआवजा राशि देने के लिए प्रदेश सरकार कटिबद्ध है।

आत्महत्या जो एक प्रवृत्ति होती है, जो वास्तव में किसी उत्पत्ति की नकारात्मकता से होती है-पुलिस अधीक्षक

 

“”आत्महत्याओं की प्रवृत्ति रोकने में मीडिया की भूमिका”” “”जलसंरक्षण”” विषय पर

 “”मीडिया संवाद कार्यशाला”” सम्पन्न

 दमोह- आत्महत्या जो एक प्रवृत्ति होती हैजो वास्तव मेंकिसी उत्पत्ति की नकारात्मकता से होती हैव्यक्तिगत बुरीनजर से नकारात्मकता के भाव में घिर चुका होता है तभी वहआत्महत्या जैसे कदम उठाता है। इस आशय के विचार आजजिले के पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल ने स्थानीय मंगलमहोटल में आयोजित “”आत्महत्याओं की प्रवृत्ति रोकने मेंमीडिया की भूमिका”” “” जलसंरक्षण”” विषय पर “”मीडियासंवाद कार्यशाला”” में व्यक्त किये।

 

 इस अवसर पर भोपाल सेआये पत्रकार प्रभु पटैरिया और हरीश दिवेकरवरिष्ठ पत्रकारनारायण सिंह ठाकुरपत्रकार नरेन्द्र दुबे मंचासीन थे।

           कलेक्टर डॉ. श्रीनिवास शर्मा के मुख्य आतिथ्य मेंआयोजित इस कार्यशाला में उन्होंने कहा आत्म हत्याओं केबारे में प्रकरण आते हैंउसका कारण क्या हैउसकी पृष्ठ भूमिक्या है और किन परिस्थियों में व्यक्ति ने यह कदम उठाया।इस विषय पर विचार करता हूं। उन्होंने शहर में हो रहीघटनाओं पर विस्तार से मीडिया के समक्ष अपनी बात रखी।

           प्रभु पटैरिया ने अपने विचार व्यक्त करते हुये कहाबुंदेलखण्ड एक ऐसा क्षेत्र है जहां पानी कम रहता हैपथरीलीजमीन हैयहां का सिस्टम तालाबों पर निर्भर है। उन्होंनेतालाबपेयजल को प्रदूषण से बचाने की बात कही। उन्होंनेकहा पानी बचाने के लिये हमें अपना दायित्व पूरा करना होगा,उसे अजाम तक पहुंचाना होगायह हम सबका कत्र्तव्य है।

           आत्म हत्या जैसी खबर को मीडिया में लाते हैं बड़ेबैनर पर छापते हैंसरकार जागृत होती हैतरह तरह के पुट्सडालते है। हमें बच्चों की आत्म हत्याओं को रोकने पर विचारकरना होगाआज गूगल को खोलकर देखें तो कई तरह केउपाय आत्महत्या करने को प्रेरित करने डले हुये है। हमें बच्चोंको इन बातों से बचाना होगा 

           उन्होंने कहा समाज के अलग-    अलग लोगों से बातकरनी होगी। हत्याओं से संबंधी बड़ी खबरों पर भी हमें विचारकरना चाहिये ताकि किसी भी प्रकार की भ्रांतियां समाज मेंनहीं फैल पाये। उन्होंने कहा कोई चीज नेगेटिव होती है जल्दीएक्टीवेट होती हैबच्चों में बड़ों में वह अपनाते है। हमें समाजको जागृत करना हैहमें अपनी जिम्मेदारी समझाना है।

           भोपाल से आये वरिष्ठ पत्रकार हरीश देवेकर नेकार्यशाला को सम्बोधित करते हुये कहा हमारे ऊपर न्यूज काप्रेसर रहता हैथोड़ा सा समय हमें अपने समाज के लिये देनाहोगा। जल संरक्षण बहुत बड़ा विषय हैऔर आदिकाल सेचला  रहा है।

           उन्होंने कहा अभी सोशल मीडिया पर लिखा  रहा हैसाऊथ अफ्रीका का वहां पर पानी के बारे मेंवहां जल संकटआ गया हैपानी खरीदना पड़ रहा हैवह स्थिति यहां भी आसकती हैसरकार जल संकट के लिये प्रयास कर रही है,तालाबस्टापडेम बना रही हैजल संरचनाओं को बढ़ावा देरही हैऔर भी प्रोग्रेस कर रही है।

           पत्रकार नरेन्द्र दुबे ने अपने विचार व्यक्त करते हुयेकहा मीडिया समाज का दर्पण हैसमाज में क्या हो रहा है,यह बताने का काम हमारे पत्रकार साथी करते हैसूचना औरसंवाद का काम भी करते हैंऔर समाज को दिशा देने काकाम भी करते हैं। मुझे खुशी है कि जनसम्पर्क विभाग ने इसविषय का चुनाव कियाबहुत ही मौजूदा हैहम सब के चिंतनका विषय है।

           जल हैतो कल हैजल ही जीवन हैजल नहीं तो कलनहींरहीम का वह दोहा हम सबकी जुवान पर रहता है””रहिमन पानी राखियेबिन पानी सब सूनपानी बिना ना उबरे,मोती मानस चून”” यह दोहा प्रसांगिक रहेगा और जीवंतरहेगा।

           उन्होंने कहा आक्सीजन और पानी के बिना हम जीवनजी नहीं सकते। जल के बिना जीवन की कल्पना नहीं करसकते। प्रकृति के पीछे हमारा व्यवहार अच्छा नही है। हमारेपुरूखों और ऋषि मुनियों ने जल के प्रति जो कृतज्ञता रखी हैखोते जा रहे है। नदीतालाबकुआबाबड़ जो भी जल केस्त्रोत हैउनका आज दोहन हो रहा है।

 

          उन्होनें जिले के राजनगर तालाबे के बारे में वेबाकअपनी बात रखते हुये बताया पुराने लोगों की सोच थी वहशहर से 5 किलोमीटर दूर बनाया गया ताकि पेयजल दूषितनहीं हो सकेआज परिस्थितिया अलग है।

           कार्यक्रम का शुभारंभ मॉ सरस्वती के चित्र समक्ष दीपप्रज्जवलित और माल्यापर्ण कर किया गया। इस अवसर परअतिथियों का स्वागत सत्कार शाल-श्रीफल ओर पुष्प मालाओंसे किया गया। कार्यक्रम का संचालन विपिन चौबे ने किया।

           जनसम्पर्क अधिकारी वाई.ए.कुरैशी ने मीडिया केसमक्ष शासन की मंशा और किये जा रहे कार्यो के प्रति अपनेविचार व्यक्त करते हुये सभी का आभार प्रकट किया। इसअवसर पर जिले के सम्मानीय मीडियाजन बड़ी संख्या में मौजूद थे

ओला वृष्टि से प्रभावित फसलों के नुकसान की भरपाई राहत राशि और फसल बीमा को मिलाकर की जायेगी

किसानों को उपज का मूल्य दिलाने मुख्यमंत्री कृषि उत्पादकता योजना लागू होगी
गेहूँ और धान पर समर्थन मूल्य के अतिरिक्त 200 रुपये प्रति क्विंटल प्रोत्साहन राशि मिलेगी, ओला वृष्टि प्रभावित फसलों के नुकसान की भरपाई की जाएगी, मुख्यमंत्री चौहान ने किसान महा-सम्मेलन में की किसान हितैषी घोषणाएँ
 
    दमोह-मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि किसानों को उनकी मेहनत का पूरा मूल्य दिलाने के लिये मुख्यमंत्री कृषि उत्पादकता योजना लागू की जायेगी। इस योजना में गेहूँ और धान पर समर्थन मूल्य के अतिरिक्त 200 रुपये प्रति क्विंटल प्रोत्साहन राशि दी जायेगी। भावांतर भुगतान योजना जारी रखी जायेगी। हाल ही में हुई ओला वृष्टि से प्रभावित फसलों के नुकसान की भरपाई राहत राशि और फसल बीमा को मिलाकर की जायेगी।
मुख्यमंत्री  चौहान ने  यहाँ जम्बूरी मैदान में भावांन्तर भुगतान योजना के प्रमाण-पत्र वितरण और कृषि महोत्सव के अंतर्गत आयोजित किसान महा-सम्मेलन में यह घोषणाएँ की। उन्होंने सम्मेलन में भावांतर राशि के प्रमाण-पत्र वितरित किये तथा 3 लाख 98 हजा किसानों को 620 करोड़ की भावांतर राशि ऑनलाइन ट्रांसफर की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस महा-सम्मेलन में किसानों की सहमति से किसानों के हित में कई महत्वपूर्ण घोषणाएँ की जो इस प्रकार हैं-घोषणाएँ :-

  • रबी 2017-18 में चना, मसूर, सरसों एवं प्याज को भावान्तर भुगतान योजना में शामिल किया जायेगा।
  • रबी 2017-18 में चना, मसूर, एवं सरसों को लायसेन्सी गोदाम में भण्डारण करने पर 4 (चार) माह तक के  भण्डारण शुल्क का भुगतान सरकार करेगी।
  • किसानों के हित में वर्ष 2018-19 में प्याज की फसल के लिये भावान्तर भुगतान योजना लागू की जायेगी।
  • प्रति विकासखण्ड एक हजार कस्टम प्रोसेसिंग एवं सर्विस सेन्टर खोले जाएंगे। किसानों को ही इनका संचालन करने की जिम्मेदारी दी जाएगी।
  • चंबल संभाग में बीहड़ को कृषि योग्य बनाने के लिये 1200 करोड़ रुपये खर्च किये जायेंगे।
  • 150 कृषि उपज मण्डियों के प्रांगणों में प्रदेश तथा प्रदेश के बाहर की मण्डियों की दरों को प्राईस ट्रेकर के माध्यम से प्रदर्शित किया जाएगा।
  • 50 कृषि उपज मण्डियों में ग्रेडिंग एवं पैकेजिंग प्लांट लगाए जाएंगे।
  • 25 कृषि उपज मण्डियों में कलर सोट्रेक्स प्लांट लगाए जाएंगे।
  • प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों के सदस्यों के कालातीत बकाया ऋणों की समाधान योजना लागू होगी। फिलहाल 4 हजार 523 समितियों में यह व्यवस्था होगी।
  • प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों द्वारा खरीफ 2017 में वितरित अल्पकालीन फसल ऋण की देय तिथि 28 मार्च से बढ़ाकर 30 अप्रैल की जाएगी।
  • सहकारी क्षेत्र के कृषक सदस्यों के किसान क्रेडिट कार्ड का रूपे कार्ड में परिवर्तन किया जाएगा।
  • प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों में माइक्रो ए.टी.एम. मशीन स्थापित की जाएगी।
  • पशुपालकों को पशुपालन से संबंधित गतिविधियों के लिये पशुपालन क्रेडिट कार्ड प्रदान किए जाएंगे।
  • आचार्य विद्यासागर गौ-संवर्धन योजना से 1500 के स्थान पर प्रतिवर्ष 15 हजार  हितग्राहियों को लाभान्वित किया जाएगा।
  • नई व्यवस्था में संशोधित खसरा नकल-नामांतरण एक महीने में कर दिया जायेगा।
  • अब आवेदन देने के दिन ही सीमांकन की तारीख दे दी जायेगी।
  • बँटाईदार किसान अब पाँच साल तक जमीन दे सकेंगे। बँटाईदार किसानों को भी सभी योजनाओं का लाभ मिलेगा।
  • यदि गाँव के लोग ट्रांसफार्मर स्वयं परिवहन व्यवस्था कर लायेंगे, तो किसानों को ट्रांसफार्मर का किराया नहीं लगेगा। ट्रांसफार्मर कनेक्शन पर ब्याज नहीं लगेगा।
  • यदि तीन महीने में ट्रांसफार्मर जल गया हो, तो चार्ज नहीं लगेगा।
  • किसानों की आय को दोगुना करने के लिये अब डिफाल्टर किसानों को भी कर्ज मिलेगा।
  • जो किसान मुख्यमंत्री कृषि पंप योजना में राशि जमा कर आवेदन करेंगे उन्हें अस्थाई कनेक्शन का चार्ज नहीं लगेगा। अलग से उन्हें अस्थाई कनेक्शन लेने की जरूरत नहीं पड़ेगी। बकाया की शर्त को शिथिल कर दिया जायेगा।
  • किसी कारण डिफाल्टर हुए किसानों को फिर से शून्य प्रतिशत ब्याज पर कर्जा मिलेगा। बकाया ब्याज सरकार देगी। मूलधन को दो किश्त में किसान जमा करेंगे। एक किश्त चुकाने के तत्काल बाद उन्हें ऋण मिल सकेगा। सरकार किसानों के हित में 2600 करोड़ रुपये से ज्यादा का ब्याज भरेगी।
  • अभी 200 सिंचाई परियोजना से 3 लाख 15 हजार हेक्टेयर में सिंचाई हो रही है। अगले पाँच सालों में 1 लाख 30 हजार हेक्टेयर में अतिरिक्त सिंचाई होगी।

आखिर क्यों ? 4 माह तक भंडारण का खर्च राज्य सरकार देगी

दमोह-मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि पिछले वर्ष प्याज की कीमतें गिरने पर राज्य सरकार ने 650 करोड़ रुपये की प्याज किसानों से खरीदी। किसानों को उनकी उपज का उचित मूल्य दिलाने के लिये लागू की गई भावांतर भुगतान योजना अब अन्य प्रदेशों में लागू की जा रही है। अब इस योजना में किसान फसल को तुरंत नहीं बेचना चाहे और अधिकृत भंडार गृहों में रखना चाहें, तो 4 माह तक भंडारण का खर्च राज्य सरकार द्वारा दिया जायेगा। इसी तरह चना, मसूर और सरसों के लिये भी भावांतर भुगतान योजना लागू की जायेगी। योजना में अगर किसान अपनी फसल भंडारण गृह में रखता है, तो उसकी आवश्यकता के लिये फसल के मूल्य का 25 प्रतिशत उसे सहकारी बैंक द्वारा दिया जायेगा, जो वह फसल बिकने पर लौटाएगा। इस राशि पर लगने वाला ब्याज राज्य सरकार भरेगी। मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना में किसानों के बेटे-बेटियों को 25 लाख से 2 करोड़ रुपये तक के ऋण की गारंटी तथा 15 प्रतिशत अनुदान राज्य सरकार देगी। साथ ही 7 साल तक 5 प्रतिशत ब्याज भरेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सरकार किसानों की सरकार है और किसानों के कल्याण के लिये नया इतिहास रच रही है।
कृषि मंत्री  गौरीशंकर बिसेन ने कहा कि किसानों के लिये भावांतर भुगतान योजना बनाने वाला मध्यप्रदेश देश का सबसे पहला राज्य है। इस योजना में 8 फसलों के लिये किसानों के खातों में 1512 करोड़ रुपये पहुँचाये जा रहे हैं। प्रदेश में 6 ट्रेक्टर प्रशिक्षण संस्थान शुरू किये जा रहे हैं। साथ ही 90 लाख किसानों को मृदा स्वास्थ्य कार्ड दिये जा रहे हैं। कार्यक्रम में प्रतीक स्वरूप किसानों को भावांतर भुगतान के प्रमाण-पत्र तथा मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना के हितग्राही को प्रमाण-पत्र दिये गये।

पत्रकार को हनुमान बनना होगा- राधा वल्लभ शारदा

दमोह-पत्रकार को हनुमान बनना होगा अपनी शक्ति पहचाननी होगी,शासन जितना पत्रकार का तिरस्कार करेगा, उसे उतना ही खामियाजा भुगतना होगाउक्त आशय के विचार   Mp वर्किंग जनर्लिस्ट यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष राधा वल्लभ शारदा ने दमोह रेस्ट हाउस पर  पत्रकारों के बीच रखे,वह प्रदेश यात्रा नरसिंहपुर, गाडरवारा, जबलपुर, तेंदूखेड़ा, तेजगढ़, अभाना, होते हुए दमोह रेस्ट हाउस पर आए जहां जबेरा, तेंदूखेड़ा ,पथरिया, ब्लाक अध्यक्ष

पटेरा ब्लॉक ,अध्यक्षों ने बड़ी गर्मजोशी से दादा का स्वागत किया।शारदा जी ने भविष्य में दमोह में संभागीय सम्मेलन की रूपरेखा पर चर्चा की,पत्रकारों के ऊपर फर्जी आरोप FIR हो रही घटनाओं के बारे में अपनी बातें रखी। मजीठिया आयोग की सिफारिशों के बारे में भी विस्तृत रूप से चर्चा करी। तेंदूखेड़ा में प्रांतीय सह सचिव श्यामसुंदर जैन के सहित सभी सदस्यों ने दादा को पुष्प माला से सम्मानित किया। तेजगढ़ में अशोक जैन हर्रई, भोजराज जैन, नन्हे भाई सिंह ठाकुर ,श्रीकांत दीक्षित ,हीरा सिंह लोधी, राजकुमार साहू अशोक साह, राजेंद्र दुब, लल्लू भैया, भगवत् भैया, ने दादा का श्रीफल से स्वागत किया ।वह रेस्ट हाउस में प्रदेश अध्यक्ष ने संक्षिप्त मीटिंग ली। इसके उपरांत प्रदेश अध्यक्ष अभाना में उत्तम मेहरा के

निवास स्थान पर पहुंचे जहां ब्लॉक अध्यक्ष हरि शंकर राठौर, त्रिलोक चंदजैन, राजकुमार दुबे, सुबोध जैन, भागवत लोधी, ने दादा का शाल श्रीफल से सम्मान किया तदुपरांत दमोह पहुंच कर रेस्ट हाउस में दमोह शाखा की मीटिंग रखी गई जहां पर संभागीय उपाध्यक्ष महेंद्र सिंह परिहार, सह सचिव अकबर खान,जिला अध्यक्ष हरीश राय, कार्यालय सचिवअख्तर मिर्ज़ा, कन्हैया विश्वकर्मा, सुरेश नामदेव, प्रबल सोनी, रुपेश अग्रवाल, रुपेश धगत, गणेश अग्रवाल, आशीष जैन, असलम खान,राजेन्द्र तिवारी ,संजय पांडे ,तरुण श्री वास्तव, मनोहर शर्मा दमोह, ने प्रदेश अध्यक्ष का पुष्पमाला से सम्मान किया। Mp वर्किंग जनर्लिस्ट यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष राधा वल्लभ शारदा के साथ संघटन के पदाधिकारी सोनू चौबे व ललित शारदा ने भी पत्रकारो की समस्याओ पर चर्चा की |

प्रेम प्रसंग में गुंडागर्दी,असफल प्रेमी अब एक्शन मोड़ में

सागर- वेलेंटाइन डे के नजदीक आते ही असफल प्रेमी अब एक्शन मोड़ में आकर सरेआम गुंडागर्दी पर उतर आए हैं । ऐसा एक वीडियो इन दिनों सागर में सुर्खियों में हैं जहां प्यार में ब्रेकअप के बाद एक प्रेमी ने नाराज़ होकर अपनी पुरानी प्रेमिका ओर उसके दोस्त पर हमला कर दिया । खबर बीते दिन की हैं जब सिविल लाइन चौराहे जैसे व्यस्तम चौराहे पर आरोपी नासिर खान अपने साथियों के साथ कार में सवार होकर आया और उसके हाथ मे देशी कट्टा था..

आरोपी ने अपने साथियों के साथ निजाम नाम के सख्स  को पकड़ा उसको धमकाया ,फिर मारपीट कर उसको स्कूटर पर पटक दिया . दरअसल युवती मेडिकल कॉलेज के पास ब्यूटी पार्लर खोले हैं । उसका कुछ माह पहले आरोपी नासिर से  प्रेम प्रसंग रहा था । किंतु अब ब्रेक अप हो गया हैं । यही वजह थी कि आरोपी उसे कई दिनों से उसके ब्यूटी पार्लर में जाकर परेशान करता था । लेकिन स्थानीयों जन के विरोध के चलते उसने युवती को परेशान करना बंद कर दिया था । बीती रात जैसे ही युवती अपने नए मित्र निजाम के साथ स्कूटर पर घर जा रही थी दोनों कुछ काम के लिए सिविल लाइन रुके , तभी आरोपी ने उन पर हमला कर दिया हैं । सिविल लाइन पुलिस ने सीटीव्ही फुटेज ओर युवती की रिपोर्ट पर नासिर के साथ अन्य पांच लोगों पर मामला दर्ज कर लिया है इसमें मुख्य आरोपी  की गिरफ्तारी हो गई है  तथा  अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है

सागर से टेकराम ठाकुर