हज-2018 के लिए 4432 सीट का हुआ कम्प्यूटरीकृत कुरआ

राज्य मंत्री श्रीमती यादव ने दी चयनित यात्रिओं को शुभकामनाएं 
 दमोह-राज्य पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीमती ललिता यादव ने कहा है कि मध्यप्रदेश को हज-2018 के लिए 4432 सीटों का कोटा दिया गया है। मध्यप्रदेश में हज-2018 के लिए 19 हजार से ज्यादा आवेदन आए हैं। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने हज यात्रियों के लिये सर्वसुविधायुक्त हज हाउस का निर्माण करवाया है।
राज्य मंत्री श्रीमती यादव ने हज के लिए चयनित यात्रियों को शुभकामनाएँ देते हुए कहा कि इस बार 4 हजार 432 हज सीटों में से रिजर्व को 559 सीटें एवं 45 वर्ष या उससे अधिक आयु वर्ग की श्रेणी-4 के ग्रुप की महिला हज आवेदक की 4 सीटें बिना मेहरम के बिन कुरआ के बाद शेष सीटों के लिए आवेदकों का चयन कम्प्यूटीकृत कुरआ से चयन किया गया है।
इस अवसर पर बताया गया कि शेष अचयनित हज आवेदकों की सूची कुरआ से बनाई जायेगी। इन्हें हज-2018 में केन्सिलेशन के विरूद्ध प्राप्त होने वाली सीटें आंवटित की जाएगी।

सिध्दधाम क्षेत्र टपका मे पुहुँचे श्रध्दालु

दमोह-तेजगढ़ से करीब 14 कि.मी. कि दूरी पर स्थित सिद्धधाम क्षेत्र टपका मंदिर का मेला भरा गया है , सुबह से ही बाहर से आये ग्रामीणों ने झंडा चढ़ाकर मेले का शुभारंभ किया। श्रद्धालुओं ने टपका मंदिर में मोदक का भोग लगाकर घर परिवार में खुशहाली की कामना की।
प्राक्रतिक वातावरण मे मौजूद इस क्षेत्र कि सुंदरता देखकर ही बनती है , ऐसा माना जाता है कि यहाँ स्तिथ क्षील मे वर्ष भर पानी टपकता रहता है , और इसका पानी पीने से लोगो के रोग दूर होते हैं ! म.प्र. पर्यटन विभाग यदि इसको पर्यटन के लिये थोड़ा विकसित कर दे तो ये मुनाफा का सौदा साबित होगा


इस मेले मे दूर-दराज से आये भक्त झंडे लेकर गाजे बाजे और महिलाएं लोक गीत गाते हुए, सिध्दधाम टपका के दरबार में दूर – दूर से हजारों कि संख्या मे लोग हाजिरी लगाने पहुंचे !

 

तेजगढ़ से गौरी शोऐब पठान कि रिपोर्ट
👇🏿

टिकरिया बनेगा लाख उत्पादक गांव

कटनी- जिले के टिकरिया गांव की पहचान अब लाख उत्पादक गांव की होगी। इसके लिए गांव की 10 महिलाओं ने समूह गठित कर एक क्विंटल लाख के कीड़ों को पेड़ों पर प्लांट कर दिया है। टिकरिया गांव की महिलाओं के समूह को लाख उत्पादन कार्य से जुड़ने की प्रेरणा ‘आत्मा’ परियोजना से मिली।

कटनी जिले में कृषि विभाग के उप संचालक ने बताया कि कलेक्टर कटनी सहित कई अन्य अधिकारी और दूसरे ग्रामों की महिलाएं टिकरिया गांव में महिलाओं द्वारा शुरू किये गये लाख उत्पादन के कार्य को देख चुकी है। महिलाओं ने बताया कि उन्हें एक पेड़ से लगभग 15 से 20 किलोग्राम लाख के उत्पादन होने की उम्मीद है।   

डेढ़ करोड़ से बने छात्रावास का शुभारंभ

राज्यमंत्री ललिता यादव ने फीता काटकर किया लोकार्पण

छतरपुर। सागर रोड पर गणेश कॉलोनी में 1 करोड़ 44 लाख की लागत से बनकर तैयार हुए 100 सीटर शासकीय पिछड़ा वर्ग पोस्ट मैट्रिक बालक छात्रावास का आज प्रदेश की पिछड़ा वर्ग कल्याण राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने फीता काटकर शुभारंभ किया। इस अवसर पर कलेक्टर रमेश भण्डारी भी मौजूद थे।

पिछड़ा वर्ग राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने बताया कि 100 सीटर इस छात्रावास में 50 रजिस्टे्रशन हो चुके हैं और सीटें पूरी भरने के बाद भी ग्रामीण क्षेत्र के बच्चे यदि शहर में रहकर पढऩा चाहते हैं तो 3 बच्चों को एक साथ किराए के मकान में रहने पर 3000 रुपए तथा 5 बच्चों को एक साथ रहने पर किराए के रूप में 5000 रुपए सरकार द्वारा दिए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि पिछड़ा वर्ग के बच्चों को बेहतर शिक्षा दिलाने के लिए हमारी सरकार कोई कसर नहीं छोड़ रही है। संभाग स्तर पर परीक्षा की पूर्व तैयारी के लिए प्रशिक्षण केन्द्र खोले गए हैं जहां बच्चे प्रशिक्षण लेकर नौकरियों के लिए तैयारी कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि सरकार ब्लाक स्तर पर भी छात्रावास बनाने की तैयारी कर रही है। राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में सरकार पिछड़ा वर्ग के 10 बच्चों को हर साल विदेश में पढ़ाई के लिए भेजने का खर्च उठा रही है। इसमें सरकार का 40 से 50 लाख रुपया प्रत्येक बच्चे की पढ़ाई पर खर्च आता है। सरकार की मंशा है कि बेहतर शिक्षा से ही बच्चों का भविष्य बेहतर बन सकता है।

कलेक्टर रमेश भण्डारी ने कहा कि छात्रावास का य

ह भवन बनकर तैयार हो गया था लेकिन इसमें कुछ कमियां थीं। जब श्रीमती ललिता यादव को पिछड़ा वर्ग विभाग का मंत्री बनाया गया तो उन्होंने प्रयास करके इसके लिए और राशि दिलाई तब कहीं इसे पूर्ण किया जा सका। उन्होंने कहा कि बच्चे यहां रहकर बेहतर पढ़ाई कर अपने माता-पिता की उम्मीदें पूरी करें और अपने घर-परिवार और गांव का नाम रोशन करें। कलेक्टर ने कहा कि इस छात्रावास को आदर्श बनाने का प्रयास भी किया जाए।

इस अवसर पर अजाक के जिला संयोजक आरपी भद्रसेन, पिछड़ा वर्ग के सहायक संचालक डॉ. नारायण सिंह, स्काउट कमिश्नर दयाशंकर तिवारी, जीडी सोनकिया, डॉ. रामप्रताप यादव, विनोद सक्सेना, प्रेम सिंह गंधर्व, भारती गौतम, कमला गंधर्व सहित अनेक लोग मौजूद थे। कार्यक्रम का शुभारंभ राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव द्वारा माँ सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण से किया गया। छात्रा तारा और रोशनी अहिरवार ने सरस्वती वंदना प्रस्तुत की।

अस्थि विसर्जन रथ को पाकर खुस हुये क्षेत्रवासी

अस्थि विसर्जन रथ को पाकर खुस हुये क्षेत्रवासी

राज्यमंत्री ललिता यादव ने क्षेत्रवासियों को दी अस्थि विसर्जन रथ की सौगात

छतरपुर। छतरपुर विधायक एवं पिछड़ा वर्ग-अल्पसंख्यक कल्याण, घुमक्कड़-अर्धघुमक्कड़ जनजाति विकास (स्वतंत्र प्रभार) एवं महिला बाल विकास राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने विधानसभा क्षेत्र के लोगों को अस्थि विसर्जन रथ के लिये बोलेरो वाहन की सौगात दी है।

राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने बताया कि वाहन का उपयोग विधानसभा क्षेत्रवासियों के लिये दिया गया है। रथ प्राप्त करने के लिये निवास स्थित कार्यालय के दूरभाष क्र. 07682-244447 पर सम्पर्क कर सकते हैं। आज रथ का उपयोग विधानसभा क्षेत्र के गंगायच के वाशिंदों द्वारा अस्थि विसर्जन के लिये किया गया है।

मरीजो को कम्बल वितरित

जबेरा–भाजपा युवा मोर्चा द्वारा विघुत मण्डल प्रागण में एक कार्यक्रम का आयोजित कर मरीजो को निशुल्क कम्बल वितरित किये।प्रतिमाह 13 तारीख को सद्गुरु नेत्र चिकित्सालय चित्रकूट द्वारा क्षेत्र के गरीब,मोतियाबिंद की बीमारी से पीड़ित लोगों का सेवाभाव से निशुल्क परीक्षण कर आपरेशन हेतु चित्रकूट ट्रस्ट के वाहन से ले जाकर आपरेशन किया जाता है।अब तक इस सेवाभावी अभियान में क्षेत्र के सैकड़ो लोग आपरेशन कराकर लाभान्वित हो चुके है।शनिवार को भी चित्रकूट ट्रस्ट अस्पताल के डॉक्टरों द्वारा विघुत मण्डल प्रागण में निशुल्क केम्प लगाया गया था।भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य विनोद राय समाजसेवी द्वारा भाजपा मोर्चा के समस्त कार्यकर्त्ताओ एव पदाधिकारियों एव एसडीएम ब्रजेंद्र रावत की विशेष उपस्थिति में करीब दो

सैकड़ा मरीजो को ठंड से बचने ,चित्रकूट तक सफर करने कम्बल वितरित किये गए।युवा मोर्चा के इस कार्यक्रम की गरीब,मरीजो द्वारा मुक्तकंठ प्रशंसा कर आयोजको को शुभाशीष दिया है।वही उपस्थित जनप्रतिनिधियों,पदाधिकारियों ने मरीजो के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना भी की है।ज्ञात हो कि समाजसेवी विनोद राय इसके पूर्व माला-बम्होरी अंचल में सेवाभावी अभियान चलाकर गरीबो एव असहाय लोगो के घर घर पहुचकर कम्बल बितरण कर चुके है।इस अवसर पर भाजपा, युवा मोर्चा के पदाधिकारीे एव कार्यकर्त्ता बड़ी संख्या में उपस्थित रहे।

गरीब तबकों के विकास के लिये केन्द्र व प्रदेश की सरकार ने दी अनेक योजनाएं: राज्यमंत्री ललिता यादव

छतरपुर। भारतीय जनता पार्टी की देश व प्रदेश की सरकार ने गरीब तबकों के लिए एक नहीं अनेक लोक कल्याणकारी योजनाएं दी हैं जो कभी किसी विपक्षी सरकारों ने नहीं दीं हैं। यह उद्गार आज खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग के द्वारा आडीटोरियम में आयोजित राशन पर्ची वितरण कार्यक्रम में मुख्य अतिथि पिछड़ा वर्ग-अल्पसंख्यक कल्याण, घुमक्कड़-अर्धघुमक्कड़ जनजाति विकास (स्वतंत्र प्रभार) एवं महिला बाल विकास राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने व्यक्त किये। कार्यक्रम की अध्यक्षता नगर पालिका परिषद छतरपुर की अध्यक्ष श्रीमती अर्चना सिंह ने की।
राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने बताया कि गरीबी रेखा के साथ-साथ ऐसे पात्र लोग जिनको यह राशन की पर्ची दी जा रही है। उनमें और अधिक जागरुकता लाना होगा। इसके लिये वार्डों में भी कैम्प लगाए जाएं। राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने बताया कि आज 4300 लोगों को पर्ची दी जा रही है जिन्हें 1 रुपए किलो गेहूं, चावल व नमक दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि माता-बहनों को परेशानी खाना बनाने में न हो इसके लिये यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उज्जवला योजना का लाभ दिया। छतरपुर जिले में 1 लाख 75 हजार लोगों को इसका लाभ मिला है, वहीं प्रधानमंत्री आवास योजना से झुग्गी-झोपड़ी की जगह पक्के मकान लोगों को मिल रहे हैं। केन्द्र व प्रदेश की सरकार गरीब तबके के लोगों को आगे बढ़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है।
राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लोक कल्याणकारी योजनाएं हर वर्ग के लिये दी हैं। बेटी के जन्म से घरों में बहुओं की इज्जत कम हो जाती थी। आज लाड़ली लक्ष्मी योजना से बेटियों को लाड़ली बना दिया है जिन्हें जन्म से ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने लखपति बनाया है। उनकी पढ़ाई-लिखाई के साथ-साथ शादी तक का जिम्मा के साथ-साथ 21 वर्ष की उम्र में 1 लाख 18 हजार रुपए का मालिक भी बनाया है। राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने कहा कि इसके साथ ही मेधावी छात्र-छात्राओं को 12वीं में 75 प्रतिशत अंक लाने पर इंजीनियर व डॉक्टरी की पढ़ाई की फीस सरकार देगी जो एक साल की 8 लाख होती है 5 साल तक सरकार लगातार स्वयं पढ़ाई की फीस देगी। भावान्तर योजना का लाभ किसानों को दिलाने के लिये सरकार ने 3 राज्यों का मॉडल तैयार कर उर्दा के भाव कम होने पर समर्थन मूल्य से ज्यादा दिये और यह राशि करोड़ों में खर्च हो रही है। राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने कहा कि केन्द्र व प्रदेश की सरकार हर वर्ग के कल्याण के लिये सबके साथ है। सभी योजनाओं का लाभ लें।
कार्यक्रम की अध्यक्ष नगर पालिका छतरपुर की अध्यक्ष श्रीमती अर्चना सिंह ने कहा कि योजनाओं का लाभ पात्र लोगों को मिले इसके लिये सरकारी अमले को मुश्तैदी से कार्य करना होगा। उन्होंने मुख्यमंत्री व प्रधानमंत्री को लोक कल्याणकारी योजनाएं गरीबों के लिये देने पर आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में खाद्य अधिकारी व्हीके सिंह, सीएमओ हरिहर गंधर्व, एसडीएम रविन्द्र चौकसे, सीईओ जनपद छतरपुर प्रज्ञा भारती सहित हितग्राही मौजूद रहे। कार्यक्रम के शुभारंभ पर राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने दीप प्रज्जवलित कर सभी के कल्याण की कामना की।

अल्पसंख्यकों के लिए 16 करोड़ की लागत से सदभाव मंडपम भी बनाए जा रहे हैं

अल्पसंख्यक कल्याण के लिए कार्ययोजना बनेगी: राज्यमंत्री

मुख्यमंत्री निकाह योजना के तहत 11 जोड़ों ने निकाह कुबूला

छतरपुर। मप्र की अल्पसंख्यक कल्याण राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने कहा है कि अल्पसंख्यकों के कल्याण के लिए कार्ययोजना बनाई जा रही है। वे आज मस्तान शाह बाबा की मजार के सामने मुख्यमंत्री निकाह योजना के तहत आयोजित समारोह को संबोधित कर रही थीं। समारोह में 11 जोड़ों ने निकाह कुबूल किया।

तंजीम अताए मुस्तफा अल्पसंख्यक कल्याण समिति द्वारा आयोजित इस समारोह में राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने कहा कि अल्पसंख्यक समाज की लड़कियों के लिए प्रदेश में 4 स्थानों पर आवासीय स्कूल खोले जा रहे हैं। अल्पसंख्यकों के लिए 16 करोड़ की लागत से सदभाव मंडपम भी बनाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेशभर में वक्फ बोर्ड की तमाम संपत्तियां फैली पड़ी हैं, इनके जरिए हम समाज का कल्याण कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष से उन्होंने निष्क्रिय वक्फ कमेटियों को बदलने को कहा है ताकि वक्फ संपत्तियों की रक्षा हो सके और उन संपत्तियों से बच्चे बेहतर शिक्षा प्राप्त कर सकें तथा समाज के गरीब वर्ग का कल्याण हो सके। राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने बताया कि छतरपुर में भी वक्फ की बहुत संपत्ति है। समाज के धर्मगुरू बैठकर इस पर विचार-विमर्श करें और उसे सुरक्षित कर समाज के कल्याण में इस्तेमाल करें।

राज्यमंत्री श्रीमती ललिता यादव ने आयोजन समिति की सराहना करते हुए कहा कि उन्होंने निकाह करने वाले 11 जोड़ों को उपहार स्वरूप घर-गृहस्थी का काफी सामान भेंट किया है तथा बहुत बच्छी व्यवस्थाएं की हैं। उन्होंने सभी 11 जोड़ों के खुशहाल जीवन की कामना करते हुए आशीर्वाद दिया। इस अवसर पर राजनगर जनपद के पूर्व अध्यक्ष सिद्धार्थशंकर बुन्देला, कांग्रेस नेता आबिद सिद्दीकी, अनीस खान, भाजपा नेता लालू लालवानी, एडवोकेट संजय शर्मा सहित आयोजन समिति के सदर हाजी शहजाद अली भी मौजूद थे।

प्रेम गुप्ता छतरपुर

“पशु संजीवनी योजना” आधार कार्ड की तरह पशुओं को मिलेगा यूनिक टैग नम्बर

दमोह-भारत शासन की नेशनल मिशन फॉर बोबाइन प्रोडक्टीविटी (NMBP) के तहत पशु संजीवनी योजना जिला दमोह में लागू की जा रही है। जिसमें जिले के गौ-भैंस वंशीय प्रजनन योग्य पशुओं में 12 नम्बर वाले यू.आई.डी. टैग पशु के कान में लगाकर पंजीयन किया जाना है। पंजीयन उपरान्त पशुपालकों को पशु स्वास्थ्य कार्ड उपलब्ध कराया जावेगा।
शासन का मानना है कि दुधारु पशुओं को यूनिक नम्बर मिलने से पशु का ब्यौरा कम्प्यूटर में एक क्लिक पर सामने आ जायेगा। जिसमें कोई भी व्यक्ति पता लगा सकेगा कि उक्त गाय-भैंस की उम्र कितनी है तथा कितनी बार ब्याही हुई है, पशु का मालिक कौन है, पशु बेचने की स्थिति में उसका यूनिक नम्बर दूसरे पशुपालक के नाम स्थानांतरित कराया जा सकेगा। पशु के कान में लगा हुआ टैग टूट जाने अथवा गुम जाने पर पशु को दूसरा टैग लगाया जायेगा और उसका पूरा डाटा नये नम्बर पर साफ्टवेयर क माध्यम से स्वतः स्थानान्तरित हो जायेगा।
पशु चिकित्सा उपसंचालक ने पशुपालकों को  सलाह  दी जाती  है, कि विभाग के कर्मचारियों से अपने पशुओं मे टैग लगवाकर पंजीयन करावें व अपने पशु को पशु संजीवनी योजना से लिंक करावें।

कार्यशाला सहित ग्रामीणों की समस्याओं का मौके पर निराकरण

 

दमोह –      वित्त मंत्री जयंत कुमार मलैया के निर्देश पर आज ग्राम अभाना में दिव्यांगों के लिए कृत्रिम अंग निर्माण, लंबित पात्र व्यक्तियों को पेंशन स्वीकृति, समग्र आईडी निर्माण एवं कृषक कार्यशाला के साथ राजस्व समस्याओं के निराकरण संबंधी कार्यशाला सम्पन्न हुई। इस अवसर पर दिव्यांगों के मेडीकल बोर्ड द्वारा प्रमाण पत्र के साथ ही निशक्तजनों को कार्यशाला में ही जूते सहित अन्य आवश्यक उपकरण बनाकर दिये गये। शिविर में दिव्यांगों को कृत्रिम उपकरण, कैलिपर्स आदि प्रदाय किये गये। शिविर में अतिथियों द्वारा योजनाओं की जानकारी दी गई।

शिविर में स्वास्थ्य विभाग, आयुर्वेद विभाग द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण कर दवाईयां दी गई वहीं पशु चिकित्सा विभाग द्वारा भी दवाईयां वितरित की गई। शिविर में सभी विभागों के द्वारा स्टाल लगाये गये थे, शिविर में दिव्यांगों के उपकरण के लिए कर्मशाला आकर्षण का केन्द्र रही। यहां दिव्यांगों को उपकरण नापकर बनाये गये एवं जूते भी दिव्यांगों को पहनाये गये।

110 दिव्यांगों को उपकरण प्रदाय किये गये

इस आयोजित शिविर में 50 कृत्रिम अंग कार्यशाला में तैयार कर दिव्यांगों को वितरित किये गये तथा 60 ट्राईसकिल, हियरिंगएड, दिव्यांगों को व्हीलचेयर, बैशाखी और स्टिक प्रदाय की गई।

मेडिकल बोर्ड

इस आयोजित शिविर में मेडिकल बोर्ड में डॉ. प्रहलाद पटैल, डॉ. सुधीर आर्य, डॉ. हेमराज सिंह, संदीप पटैल सहित अन्य विशेषज्ञ मौजूद थे। जिन्होंने दिव्यांगों का परीक्षण कर मेडिकल सर्टिफिकेट प्रदान किये।

इस अवसर पर समाज सेवी सिद्धार्थ मलैया, रमन खत्री, मनीष तिवारी, नीलेश सोनी, विशाल शिवहरे, गुड्डू पटैल,कपिल सोनी, भरत यादव, सीईओ जनपद पंचायत श्री मालवीय, डॉ. रियाज कुरैशी, चन्द्रेश राठौर, सीएस विश्नोई, धर्मेन्द परिहार, पप्पू सिंह सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी, जनप्रतिनिधि, पंचायत प्रतिनिधि मौजूद थे।